नई दिल्ली (टेक डेस्क)। मोबाइल सिम से लेकर नए बैंक अकाउंट खुलवाने तक सभी कामों के लिए आधार की जरुरत पड़ती है। यही नहीं, कभी-कभी तो छोटे-छोटे कामों के लिए भी आधार नंबर मांग लिया जाता है। लेकिन हर समय अपना आधार साथ रखना संभव नहीं हो सकता है। ऐसे में हम आपको एक ऐसी ऐप के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके हर समय आधार साथ रखने की जरुरत को पूरा करेगा। इस ऐप का नाम mAadhaar है। इसे यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने डेवलप किया है। जानें इस ऐप के बारे में विस्तार से:

जानें mAadhaar के बारे में:

डिजिटल इंडिया की मुहिम को बढ़ाते हुए इस ऐप को पेश किया गया है। इस ऐप में आधार धारक अपने आधार से जुड़ी सभी जानकारी रख सकते हैं। ऐसे में आपको हमेशा अपने साथ आधार रखने की जरुरत नहीं होगी। यहां हम आपको कुछ ऐसे काम बता रहे हैं तो जो mAadhaar के जरिए किए जा सकते हैं।

  1. mAadhaar का इस्तेमाल आधार कार्ड के वैलिड रिप्लेसमेंट के तौर पर किया जा सकता है। यह ऐप आधार धारक को फोन में आधार आइडेंटिडी रखने की सुविधा देती है।
  2. इस ऐप के जरिए यूजर किसी भी समय अपने बायोमेट्रिक डाटा को लॉक व अनलॉक कर सकते हैं।
  3. इस ऐप में QR कोड फीचर दिया गया है जिसके जरिए आधार धारक e-KYC के लिए अपना डाटा शेयर कर सकते हैं। साथ ही उसे अपडेट भी कर सकते हैं।
  4. अगर आपका मोबाइल नंबर आपके परिवार को किसी दूसरे आधार से भी लिंक है तो आप अपने फोन में 3 आधार प्रोफाइल को एड कर सकते हैं। साथ ही इनका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। ध्यान रहे कि यह ऐप एंड्रॉयड 5.0 लॉलीपॉप या उससे ऊपर के वर्जन पर ही काम करेगा।

फेस रिक्गनीशन होगा अनिवार्य:

यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने आधार धारकों की सुरक्षा को देखते हुए फेशियल रिकॉगनिशन को अनिवार्य कर दिया है। इसे सुरक्षा के मद्देनजर एक अतिरिक्त लेयर के तौर पर पेश किया गया है। इसके तहत जिन सर्विसेज के सत्यापन के लिए आधार की जरुरत होती है उसके लिए लाइव फोटो ली जाएगी। यानी जब भी आप आधार कार्ड का इस्तेमाल किसी भी सर्विस के सत्यापन के लिए करेंगे तो स्पॉट पर ही आपकी फोटो खींची जाएगी।

इस खबर की ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

https://www.jagran.com/technology/tech-news-uidai-adds-security-layer-for-aadhaar-authentication-that-makes-facial-recognition-a-must-18347259.html

 

Posted By: Shilpa Srivastava