Move to Jagran APP

Sawan Vrat Tyohar 2024: बढ़ जाता है सावन में पड़ने वाले व्रत-त्योहारों का महत्व, यहां जानिए सूची

सनातन धर्म में सावन का विशेष महत्व माना गया है। वहीं सावन में आने वाले व्रत-त्योहारों का महत्व और भी बढ़ जाता है। इस साल सावन में की शुरुआत 22 जुलाई 2024 सोमवार के दिन से होने जा रही है जो 19 अगस्त 2024 तक रहेगा। ऐसे में चलिए जानते हैं कि सावन माह (Sawan 2024 Festivals) के व्रत-त्योहारों की सूची।

By Suman Saini Edited By: Suman Saini Wed, 10 Jul 2024 12:59 PM (IST)
Sawan Vrat Tyohar 2024: बढ़ जाता है सावन में पड़ने वाले व्रत-त्योहारों का महत्व, यहां जानिए सूची
Sawan 2024 Festivals List: सावन में पड़ रहे हैं ये व्रत-त्योहार की सूची

धर्म डेस्क, नई दिल्ली। सावन का महीना मुख्य रूप से भगवान शिव की आराधना के लिए समर्पित माना गया है। इस दौरान भगवान शिव की आराधना करने से साधक पर महादेव की कृपा बनी रहती है और कई प्रकार के लाभ प्राप्त हो सकते हैं। सावन सोमवार के दिन भगवान शिव कि निमित्त व्रत किया जाता है, तो वहीं, सावन के मंगलवार के दिन मंगला गौरी व्रत किया जाता है, जो माता पार्वती की पूजा-अर्चना के लिए समर्पित होता है। इसके साथ ही सावन में नाग पंचमी और रक्षा बंधन जैसे त्यौतार भी पड़ रहे हैं। 

सावन के व्रत त्यौहार (Sawan 2024 Vrat Tyohar)

  • 22 जुलाई 2024, सोमवार - पहला सावन सोमवार व्रत
  • 23 जुलाई 2024, मंगलवार - पहला मंगला गौरी व्रत
  • 24 जुलाई 2024, बुधवार - गजानन संकष्टी चतुर्थी व्रत
  • 27 जुलाई 2024, शनिवार - कालाष्टमी, मासिक कृष्ण जन्माष्टमी
  • 29 जुलाई 2024, सोमवार - दूसरा सावन सोमवार व्रत
  • 30 जुलाई 2024, मंगलवार - दूसरा मंगला गौरी व्रत
  • 31 जुलाई 2024, बुधवार - कामिका एकादशी

यह भी पढ़ें - Sawan 2024: महादेव का प्रिय सावन होने जा रहा है शुरू, व्रत के दौरान जरूर ध्यान रखें ये बातें

  • 05 अगस्त 2024, सोमवार - तीसरा सावन सोमवार व्रत
  • 06 अगस्त 2024, मंगलवार - तीसरा मंगला गौरी व्रत, मासिक दुर्गाष्टमी
  • 08 अगस्त, 2024, गुरुवार - विनायक चतुर्थी
  • 09 अगस्त 2024, शुक्रवार - नाग पंचमी
  • 12 अगस्त 2024, सोमवार - चौथा सावन सोमवार व्रत
  • 13 अगस्त 2024, मंगलवार - चौथा मंगला गौरी व्रत, मासिक दुर्गाष्टमी
  • 16 अगस्त, 2024, शुक्रवार - पुत्रदा एकादशी
  • 19 अगस्त 2024, सोमवार - रक्षा बंधन, पांचवां सावन सोमवार व्रत, सावन समाप्त

यह भी पढ़ें - Sawan 2024: सावन माह में भगवान शिव को गलती से भी न चढ़ाएं ये चीजें, घर में हो सकता है दरिद्रता का वास

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए उपाय/लाभ/सलाह और कथन केवल सामान्य सूचना के लिए हैं। दैनिक जागरण तथा जागरण न्यू मीडिया यहां इस लेख फीचर में लिखी गई बातों का समर्थन नहीं करता है। इस लेख में निहित जानकारी विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों/दंतकथाओं से संग्रहित की गई हैं। पाठकों से अनुरोध है कि लेख को अंतिम सत्य अथवा दावा न मानें एवं अपने विवेक का उपयोग करें। दैनिक जागरण तथा जागरण न्यू मीडिया अंधविश्वास के खिलाफ है।