Move to Jagran APP

Aaj Ka Panchang: पढ़ें 13 अगस्त 2021 का पंचांग, नाग पंचमी आज, जानें मुहूर्त, दिशाशूल एवं राहुकाल

Aaj Ka Panchang आज सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि है। आज 13 अगस्त 2021 और दिन शुक्रवार है। आज नाग पंचमी है। आज के दिन नागों की पूजा करने की परंपरा है। कालसर्प दोष से मुक्ति या कालसर्प शांति पूजन के लिए यह दिन उत्तम होता है।

By Kartikey TiwariEdited By: Fri, 13 Aug 2021 06:42 AM (IST)
Aaj Ka Panchang: पढ़ें 13 अगस्त 2021 का पंचांग, नाग पंचमी आज, जानें मुहूर्त, दिशाशूल एवं राहुकाल

Aaj Ka Panchang: हिन्दी पंचांग के अनुसार, आज सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि है। आज 13 अगस्त 2021 और दिन शुक्रवार है। आज नाग पंचमी है। आज के दिन नागों की पूजा करने की परंपरा है। कालसर्प दोष से मुक्ति या कालसर्प शांति पूजन के लिए यह दिन उत्तम होता है। आज रवि योग साढ़े नौ बजे से पूरे दिन है, वहीं साध्य योग दोपहर तक है। उसके बाद शुभ योग शुरु होगा। आज शुक्रवार के दिन आपको माता लक्ष्मी की आराधना करनी चाहिए। उनकी कृपा से आ​र्थिक समस्याओं का समाधान हो जाएगा। आज के पंचांग में शुभ मुहूर्त, राहुकाल, दिशाशूल के अलावा चंद्रोदय, सूर्योदय, सूर्यास्त, चंद्रास्त आदि के बारे में भी जानकारी दी जा रही है।

आज का पंचांग

दिन: शुक्रवार, श्रावण मास, शुक्ल पक्ष, पंचमी तिथि।

आज का दिशाशूल: पश्चिम।

आज का राहुकाल: प्रात: 10:30 बजे से 12:00 बजे तक।

आज का पर्व एवं त्योहार: नाग पंचमी, कालसर्प शांति पूजन।

विक्रम संवत 2078 शके 1943 दक्षिणायन, उत्तरगोल, वर्षा ऋतु श्रावण मास शुक्ल पक्ष की पंचमी 13 घंटे 43 मिनट तक, तत्पश्चात् षष्ठी हस्त नक्षत्र 08 घंटे तक, तत्पश्चात् चित्रा नक्षत्र साध्य योग 13 घंटे 46 मिनट तक, तत्पश्चात् शुभ योग कन्या में चंद्रमा 19 घंटे 29 मिनट तक तत्पश्चात् तुला में।

सूर्योदय और सूर्यास्त

आज के दिन सूर्योदय प्रात:काल 06 बजकर 04 मिनट पर हुआ है, वहीं सूर्यास्त शाम को 06 बजकर 45 मिनट पर होगा।

चंद्रोदय और चंद्रास्त

आज का चंद्रोदय सुबह 10 बजकर 08 मिनट पर होगा। चंद्र के अस्त का समय आज रात 10 बजकर 21 मिनट पर है।

आज का शुभ समय

अभिजित मुहूर्त: आज दिन में 11 बजकर 59 मिनट से दोपहर 12 बजकर 50 मिनट तक।

रवि योग: आज सुबह 09 बजकर 30 मिनट से अगले दिन प्रात: 06 बजकर 04 मिनट तक।

विजय मुहूर्त: दोपहर 02 बजकर 31 मिनट से दोपहर 03 बजकर 22 मिनट तक।

साध्य योग: आज दोपहर 03 बजकर 17 मिनट तक। उसके बाद से शुभ योग।

अमृत काल: आज देर रात 02 बजकर 19 मिनट से अगले ​दिन प्रात: 03 बजकर 51 मिनट तक।

आज सावन शुक्ल पंचमी है। आज शुक्रवार के दिन लक्ष्मी चालीसा का पाठ करना चाहिए और माता लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करना चाहिए। नाग पंचमी के दिन कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए पूजा करनी चाहिए। आज आप कोई नया कार्य करना चाहते हैं तो शुभ मुहूर्त का ध्यान रखें।