नई दिल्ली, Budhaditya Yoga: ज्योतिष गणना के अनुसार, 2 जुलाई की सुबह 9 बजकर 42 मिनट में वृषभ राशि से निकलकर मिथुन राशि में प्रवेश कर गया है। वहीं, मिथुन राशि में पहले से ही ग्रहों के राजा सूर्य देव विराजमान है। वह इस राशि में 16 जुलाई को रात 10 बजकर 56 मिनट तक रहेंगे। ऐसे में 14 दिनों के लिए बुध और सूर्य ग्रह की युति हो रही है। इस युति के कारण बुधादित्य योग बन रहा है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, बुधादित्य योग का बनना कई राशियों के लिए लाभकारीहै। इस योग में हर एक काम शुभ होता है और हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त होती है। बुधादित्य योग हर राशि के जातकों के जीवन पर अशुभ या शुभ फल डालेगा। ऐसे में जानिए बुधादित्य योग किन राशियों को देगा बंपर लाभ।

मिथुन राशि

बुध और सूर्य की युति इसी राशि में हो रही है। ऐसे में बुधादित्य योग इस राशि के जातकों को सबसे अधिक लाभ देगा। इसके साथ ही इस राशि के लोगों को अपार सफलता के साथ नौकरी करने वाले लोगों को प्रमोशन मिलेगा। नई नौकरी ढूंढ रहे लोगों को सफलता हासिल होगी। सूर्य और बुध की युति से आर्थिक स्थिति एक दम परफेक्ट रहेगी।

सिंह राशि

इस राशि में बुध का गोचर ग्याहरवें भाव में हो रहा है। ऐसे में इस राशि के जातकों को भी ढेरों लाभ मिलेंगे। नई नौकरी सर्च कर रहे हैं, तो इन दिनों में आप अवश्य लाभ मिलेगा। वहीं इस राशि के जातक कहीं पर निवेश करना चाहते हैं, तो उन्हें जरूर लाभ मिलेगा।

कन्या राशि

इस राशि के जातकों को सूर्य और बुध की युति से बनने वाले बुधादित्य योग का काफी लाभ मिलेगा। नौकरी-बिजनेस में अपार सफलता मिलेगी। लंबे समय से अटके हुए कार्य पूरे होंगे। जो लोग नई जॉब ढूंढ रहे हैं तो उन्हें भी सफलता हासिल होगी।

धनु राशि

बुधादित्य योग का असर इस राशि के जातकों पर शुभ पड़ेगा। इस राशि के जातकों अधिक आय होगी। हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी। शत्रुओं पर विजय भी प्राप्त होगी।

Pic Credit- FREEPIK

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।'

Edited By: Shivani Singh