Move to Jagran APP

Budh Stotra: बुधवार के दिन करें इस स्तोत्र का पाठ, कुंडली में बुध दोष से मिलेगी राहत

जिस प्रकार देवी-देवताओं के लिए दिन समर्पित होते हैं उसी प्रकार प्रत्येक दिन किसी न किसी ग्रह के लिए भी समर्पित माना जाता है। ऐसे ही बुधवार का दिन बुध ग्रह के लिए समर्पित माना गया है। ऐसे में यदि आप बुध ग्रह से जुड़ा ये उपाय करते हैं तो आपको कुण्डली में बुध दोष से राहत मिल सकती है।

By Suman Saini Edited By: Suman Saini Published: Wed, 03 Apr 2024 08:00 AM (IST)Updated: Wed, 03 Apr 2024 08:00 AM (IST)
Budh Stotra: बुधवार के दिन करें इस स्तोत्र का पाठ, कुंडली में बुध दोष से मिलेगी राहत
Budh Stotra बुधवार के दिन करें बुध स्तोत्र का पाठ

धर्म डेस्क, नई दिल्ली। Budh Stotra on Wednesday: बुधवार का दिन गणेश जी के साथ-साथ बुध ग्रह को भी समर्पित माना जाता है। बुध ग्रह को बुद्धि और विवेक का कारक भी माना जाता है। इसके साथ ही बुध को ग्रहों का राजकुमार भी कहा जाता है। ऐसे में अगर आपकी कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति ठीक रहत है, तो आपको जीवन में व्यापार और शिक्षा के क्षेत्र में सफलता मिलती है। ऐसे में बुधवार के दिन आप बुध स्तोत्र का पाठ करके जीवन में लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

loksabha election banner

बुध स्तोत्र -

पीताम्बर: पीतवपुः किरीटश्र्वतुर्भजो देवदु: खपहर्ता। धर्मस्य धृक् सोमसुत: सदा मे सिंहाधिरुढो वरदो बुधश्र्व ।।1।।

प्रियंगुकनकश्यामं रुपेणाप्रतिमं बुधम्। सौम्यं सौम्य गुणोपेतं नमामि शशिनंदनम ।।2।।

सोमसूनुर्बुधश्चैव सौम्य: सौम्यगुणान्वित:। सदा शान्त: सदा क्षेमो नमामि शशिनन्दनम् ।।3।।

उत्पातरूप: जगतां चन्द्रपुत्रो महाधुति:। सूर्यप्रियकारी विद्वान् पीडां हरतु मे बुध: ।।4।।

शिरीष पुष्पसडंकाश: कपिशीलो युवा पुन:। सोमपुत्रो बुधश्र्वैव सदा शान्ति प्रयच्छतु ।।5।।

श्याम: शिरालश्र्व कलाविधिज्ञ: कौतूहली कोमलवाग्विलासी । रजोधिकोमध्यमरूपधृक्स्यादाताम्रनेत्रीद्विजराजपुत्र: ।।6।।

अहो चन्द्र्सुत श्रीमन् मागधर्मासमुद्रव:। अत्रिगोत्रश्र्वतुर्बाहु: खड्गखेटक धारक: ।।7।।

गदाधरो न्रसिंहस्थ: स्वर्णनाभसमन्वित:। केतकीद्रुमपत्राभ इंद्रविष्णुपूजित: ।।8।।

ज्ञेयो बुध: पण्डितश्र्व रोहिणेयश्र्व सोमज:। कुमारो राजपुत्रश्र्व शैशेव: शशिनन्दन: ।।9।।

गुरुपुत्रश्र्व तारेयो विबुधो बोधनस्तथा। सौम्य: सौम्यगुणोपेतो रत्नदानफलप्रद: ।।10।।

एतानि बुध नमामि प्रात: काले पठेन्नर:। बुद्धिर्विव्रद्वितांयाति बुधपीड़ा न जायते ।।11।।

यह भी पढे़ं - Siddheshwar Nath Temple: विश्व के सबसे बड़ा शिवलिंग का झरना करता है जलाभिषेक, यहां आने से इंसान होता है मालामाल

करें ये काम 

कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति सही रखने के लिए आप बुधवार के दिन हरे रंग के कपड़े धारण कर सकते हैं। इसके साथ ही बुध ग्रह को मजबूत करने के लिए देवी दुर्गाजी, भगवान श्रीगणेश की आराधना करना चाहिए। आप बुधवार के दिन बुध ग्रह की शांति के लिए व्रत करने के साथ साथ जातक को हरा वस्त्र, पुष्प, कपूर,  पन्ना, दक्षिणा आदि का दान करना चाहिए।

इन मंत्रों का जाप करें - 

तांत्रिक मंत्र

ऊँ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः

बुं बुधाय नमः

बुध गायत्री मंत्र

ओम सौम्यरूपाय विद्महे वाणेशाय धीमहि, तन्नो सौम्यः प्रचोदयात्॥

WhatsApp पर हमसे जुड़ें. इस लिंक पर क्लिक करें.

डिसक्लेमर: 'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।'


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.