Wednesday Puja: आज बुधवार है और आज के दिन गणेश जी की पूजा की जाती है। मान्यता है कि बुधवार का दिन गणेश जी को समर्पित है और आज के दिन इनकी पूजा करने से व्यक्ति की बाधा, संकट, रोग, और दरिद्रता दूर हो जाती है। बुधवार को की गई गणेश जी की पूजा शीघ्र फलदायी होती है। शास्त्रों में भगवान गणेश जी को विघ्नहर्ता कहा गया है अर्थात गणेश जी को सभी तरह की परेशानियों को खत्म करने वाला बताया गया है। तो आइए जानते हैं कैसे करें श्री गणेश की पूजा।

इस तरह करें श्री गणेश जी की पूजा:

इस दिन प्रातः काल उठ जाना चाहिए। फिर नित्यकर्मों से निवृत्त हो स्नानादि कर लेना चाहिए। इसके बाद गणेश जी का ध्यान करें। फिर पूजा स्थल पर पूर्व या उत्तर दिशा की ओर मुख कर आसन पर बैठ जाएं। इसके बाद एक चौकी पर गणेश जी तस्वीर या प्रतिमा को स्थापित करें। इसके साथ ही श्री गणेश यन्त्र की स्थापना भी करें। इसके बाद पूजन सामग्री को एकत्रित करें और पुष्प, धूप, दीप, कपूर, रोली, मौली लाल, चंदन, मोदक आदि गणेश जी को अर्पित करें। फिर श्री गणेश को सिंदूर का तिलक लगाएं। भगवान की आरती करें। इसके बाद ॐ गं गणपतये नमः का जाप 108 बार करें।

गणेश जी को लड्डू और मोदक का भोग लगाना चाहिए क्योंकि श्री गणेश को लड्डू और मोदक बेहद प्रिय हैं। कहा जाता है कि गणपति बप्पा को यह अर्पित करने से वे प्रसन्न हो जाते हैं और व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं।

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। '