किस प्रकार करें पूजा

कई लोग बुधवार के दिन गणेश जी की पूजा करते हैं और व्रत भी रखते हैं। ऐसी मान्‍यता है कि इस दिन व्रत पूजन करने से घर में चल रही परेशानियां दूर होती हैं और सुख शांति आती है। इतना ही नहीं परिवार के आर्थिक संकट भी दूर होते हैं। अत आवश्‍यक है कि पूजा के विधि-विधान का पालन सावधानी से किया जाए, तो जाने बुधवार के व्रत-पूजा से जुड़ी कुछ जरूरी बातें। 

दस ध्‍यान रखने योग्‍य पायदान

1- सुबह स्नान  करने के पश्‍चात तांबे के पात्र में गणेश जी की मूर्ति स्थापित करें।

2- पात्र को अच्छी तरह से साफ करें और पूजा के समय मुंह पूर्व दिशा में रखें। 

3- साफ आसन पर बैठें और भगवान गणेश की फूल, धूप, दीप, कपूर, चंदन से पूजा करें। 

4- गणपति की पूजा में दूब यानी दूर्वा अर्पित करना ना भूलें ये अत्‍यंत शुभ माना जाता है। 

5- पूजा के पूर्ण करके गणेश जी को मोदक का भोग लगायें।

6- अंत में भगवान का ध्यान करते हुए इस मंत्र का 108 बार मन में जाप करें ॐ गं गणपतये नमः।

7- दिन भर व्रत रखने के बाद शाम को भी पूजा अवश्य करनी चाहिए।

8- इस दिन भागवत महापुराण का पाठ करना भी शुभ होता है।

9- बुधवार की पूजा में हरे रंग का अत्‍यंत महत्‍व है इस दिन इसी रंग के फल, फूल और वस्त्र दान करें।

10- बुधवार के व्रत में नमक खाना वर्जित है। एक ही समय भोजन करें और दही, मूंग की दाल का हलवा या कोई भी हरी वस्तु से बनी चीज खायें।

 

By Molly Seth