नई दिल्ली, Ganesh Jayanti 2023 Aarti: माघ मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि यानी आज गणेश जयंती का पर्व मनाया जा रहा है। आज के दिन भगवान गणेश की विधिवत पूजा करने के साथ व्रत रखने का विधान है। इस साल गणेश जयंती के दिन बुधवार पड़ रहा है। इसके साथ ही कई शुभ बन रहे हैं। भगवान गणेश की विधिवत पूजा करने के बाद अंत में आरती जरूर पढ़ें। शास्त्रों के अनुसार आरती करने के बाद ही पूजा पूरी होती है। जानिए गणेश जी की संपूर्ण आरती।

Ganesh Jayanti 2023: गणेश जयंती पर पंचक और भद्रा का साया, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

॥श्री गणेश जी की आरती॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

एक दंत दयावंत, चार भुजा धारी ।

माथे सिंदूर सोहे, मूसे की सवारी ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।

माता जाकी पार्वती (माता पार्वती के मंत्र), पिता महादेवा ॥

पान चढ़े फल चढ़े, और चढ़े मेवा ।

लड्डुअन का भोग लगे, संत करें सेवा ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया ।

बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

‘सूर’ श्याम शरण आए, सफल कीजे सेवा ।

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

दीनन की लाज रखो, शंभु सुतकारी ।

कामना को पूर्ण करो, जाऊं बलिहारी ॥

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥

श्री गणेश आरती करने के लाभ

  • शास्त्रों के अनुसार नियमित रूप से गणेश आरती करने से घर में सुख शांति बनी रहती है, जिससे सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।
  • गणेश जी की आरती करने से व्यक्ति को हर तरह के कष्टों से छुटकारा मिल जाता है।
  • गणेश जी की आरती करने से व्यक्ति का सोया हुआ भाग्य जाग जाता है।
  • भगवान गणेश की विधिवत पूजा करने से मां लक्ष्मी की कृपा भी हमेशा बनी रहती है। ऐसे में व्यक्ति को कभी भी पैसों की तंगी का सामना नहीं करना पड़ता है।।

Pic Credit- Freepik

डिसक्लेमर- इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।

Edited By: Shivani Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट