उदयपुर, संवाद सूत्र। राजसमंद जिले के भीम कस्बे में सोमवार को एक और पुलिसकर्मी पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। गंभीर रूप से घायल पुलिसकर्मी को ब्यावर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। छह दिनों में पुलिसकर्मी पर हमले की यह दूसरी वारदात है। इससे पहले उदयपुर के कन्हैयालाल हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ने के दौरान कांस्टेबल संदीप सिंह पर हमला कर दिया गया, जिसका उपचार अजमेर के अस्पताल में जारी है। मिली जानकारी के अनुसार कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद जब भीम में हत्यारे मोहम्मद गौस और रियाज मोहम्मद को पुलिस ने दबोच लिया, तब से वहां तनाव जारी है। पिछले छह दिनों से वहां बाजार बंद थे।

सोमवार को वहां बाजार खुले थे और पूरे कस्बे में पुलिस तैनात थी। इसी दौरान बदनोर चौराहे पर तैनात हैड कांस्टेबल बजेराम पर एक युवक ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। जिसमें उसके एक हाथ में गहरा जख्म आया जबकि दूसरे हाथ की अंगूली कट गई। हमलावर ने बजेराम को बचाने आए साथी पुलिसकर्मियों पर भी हमले की कोशिश की। हमले के बाद आरोपी फरार हो गया किन्तु पुलिस ने बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी भीलवाड़ा जिले के करेड़ा थाना क्षेत्र के गुमा का वाडिया गांव का गजेंद्र सिंह पुत्र चून सिंह बताया जा रहा है। इधर, हमले में गंभीर रूप से घायल हैड कांस्टेबल बजेराम को उपचार के लिए भीम अस्पताल ले जाया गया।

जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे पहले राजसमंद के आरके अस्पताल और बाद में ब्यावर के अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। एक सप्ताह में पुलिसकर्मी पर हमले के बाद भीम कस्बे में फिर से तनाव गहरा गया। इस घटना से पुलिसकर्मी बेहद गुस्से में हैं। गौरतलब है कि इससे पहले भी भीम कस्बे में सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ निवासी कांस्टेबल संदीप कुमार पर भी तलवार से हमला कर दिया था। जिसके बाद से उनका अजमेर में इलाज जारी है। उस मामले में पुलिस ने करीब 20 से ज्यादा आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

डीजीपी ने विभागीय बैठक बुलाई

भीम कस्बे में एक सप्ताह के दौरान दो पुलिसकर्मियों पर हमले के बाद पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर ने मंगलवार पांच जुलाई को पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ पुलिस अफसरों की बैठक बुलाई है। कुछ सीनियर आईपीएस अफसरों को भी भीम भेजा गया है।

राजसमंद सांसद दीया कुमारी पहुंची भीम

राजसमंद सांसद दीया कुमारी भाजपा के पांच विधायकों के साथ सोमवार को भीम पहुंची। उनके साथ कुंभलगढ़ विधायक सुरेंद्र सिंह राठौड़, जैतारण विधायक अविनाश गहलोत, ब्यावर विधायक शंकर सिंह रावत, पुष्कर विधायक सुरेश रावत तथा आसींद विधायक जब्बर सिंह थे। इनके अलावा पूर्व विधायकों में हरिसिंह रावत के अलावा जिला प्रमुख रतनी देवी भी शामिल थे। दीया कुमारी भीम के व्यापारियों तथा भाजपा कार्यकर्ताओं से मिली।

Edited By: Vijay Kumar