जोधपुर, संवाद सूत्र। Haridwar Kumbh 2021: हरिद्वार कुंभ 2021 के लिए वर्तमान में जोधपुर से हरिद्वार तक कोई ट्रेन संचालित नहीं होने की जोधपुर जिले सहित आसपास क्षेत्रों के लोगों की असुविधा व पीड़ा को लेकर पाली सांसद पीपी चौधरी ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर स्पेशन ट्रेन की मांग की। चौधरी ने पत्र में लिखा कि कुंभा मेला, हिंदू संस्कृति और धर्म में आध्यात्मिक दृष्टि से विशेष आयोजन है। उत्तराखंड के हरिद्वार, जो कि भारतीय संस्कृति और सभ्यता को बहुरूपदर्शिका प्रस्तुत करता है व जिसे आध्यात्मिक सुखों की स्थली के साथ ईश्वर का प्रवेश द्वार भी माना गया है, कुंभ 2021 का आयोजन होना है। इसमें आने वाली अनेक तिथियों पर प्रमुख स्नान होंगे, जिसकी हिंदू धर्म के अनुसार विशेष मान्यता है।

सांसद ने पत्र में जोधपुर से कोई भी स्पेशल ट्रेन हरिद्वार तक न होने की पीड़ा को उजागर करते हुए बताया कि वर्तमान में फरवरी के अंत से शुरू हो रहे सबसे बड़े धार्मिक आयोजन कुंभ के लिए उत्तर-पश्चिम रेलवे जोन की जोधपुर से हरिद्वार के लिए कोई विशेष ट्रेन की तैयारी अभी तक नहीं हो रखी है। ऐसे में जोधपुर जिले के लोगों को इस आयोजन के लिए एकमात्र विकल्प के रूप में जयपुर व मारवाड़ जंक्शन ही रह पाता है। लेकिन इस विकल्प को चुनने के लिए भी लोगों के समक्ष विशेष रूप से सीटों की उपलब्धता नहीं है, क्योंकि शाही स्नान के लिए पहले ही वेटिंग बन चुकी है।

जयपुर से मार्च के दौरान अहमाबाद-ऋषिकेश एक्सप्रेस ट्रेन संख्या 09031 है, जिसकी सभी क्लास में पहले से ही शाही स्नान के लिए प्रतीक्षा सूची बन चुकी है। कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए बिना कंफर्म टिकट यात्रा को अनुमति भी नहीं है। दूसरी ट्रेन ओखा-देहरादून 09565 है, जिसमें अभी थर्ड एसी क्लास में वेटिंग चल रही है और बाकी क्लास में सीमित सीट है। मारवाड़ जंक्शन से मार्च में जयपुर लिए चलने वाली ट्रेन संख्या 09031 है, जिसमें किसी भी क्लास में कंफर्म टिकट नहीं मिल रहा है। पत्र में सांसद ने विकट परिस्थितियों का जिक्र करते हुए पश्चिमी राजस्थान के लोग, विशेष रूप से वरिष्ठ नागरिकगण इस अतिविशेष प्रमुख तिथियों के लिए होने वाले स्नान के लिए परेशानी का जिक्र करते हुए जोधपुर से हरिद्वार तक एक स्पेशल ट्रेन जल्द से जल्द से चलाने के लिए अनुरोध किया है, जिससे यात्रा करने वाले लोगों को राहत मिल सके।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप