जयपुर, जागरण संवाददाता। Rajasthan: राजस्थान में अलवर जिले के नीमराणा कस्बे में चार साल की बच्ची से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। इस मामले में बच्ची के पड़ोस में रहने वाले 45 साल के रामनरेश को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। रामनरेश उत्तर प्रदेश के बलिया जिले का रहने वाला है और नीमराणा में एक फैक्ट्री में काम करता है। पुलिस के अनुसार, शुक्रवार सुबह बच्ची घर में अकेली थी, इसी का लाभ उठाते हुए उसने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। दुष्कर्म के बाद वह बच्ची को छोड़कर फरार हो गया। कुछ देर बाद बच्ची के माता-पिता घर पहुंचे तो बच्ची बदहाल हालत में मिली। लहूलुहान बच्ची ने पूरी घटना की जानकारी दी तो बच्ची के पिता ने पुलिस में मामला दर्ज कराया। पुलिस ने तत्काल आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। वह नशे का आदी है।

पुलिस ने दो मामलों में 72 घंटों में पेश किया चालान

अलवर पुलिस ने दो मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म की कोशिश और अश्लीलता के मामले में दो आरोपितों के खिलाफ 72 घंटों में स्थानीय कोर्ट में चालान पेश किया। पुलिस ने कोरोना के चलते अवकाश होने के बावजूद स्पेशल अनुमति लेकर कोर्ट में चालान पेश किया है। अलवर पुलिस कोर्ट से इनमें प्रतिदिन सुनवाई की अपील करेगी ताकि आरोपितों को जल्द से जल्द सजा मिल सके। दोनों प्रकरणों में पॉक्सो एक्ट में मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें पहला मामला अलवर शहर में 21 सितंबर का।

यहां 14 माह की दुधमुंही बच्ची से अश्लीलता और दुष्कर्म की कोशिश की गई। यह घटना एनईबी थाना इलाके में हुई थी। यहां 14 माह की एक बच्ची के साथ 50 वर्षीय आरोपित पूरन द्वारा अश्लील हरकत की गई थी। इसका मामला बच्ची की मां ने महिला थाने में दर्ज कराया था। उस पर पुलिस ने तत्परता से आरोपित को तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और मामले का चालान भी पेश कर दिया। वहीं, दूसरा मामला 20 सितंबर का है। इस दिन एक बाल अपचारी ने छह वर्षीय बालिका के साथ गलत हरकत की थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने जांच के लिए कहा है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप