संवाद सहयोगी, तरनतारन : नए साल के उपलक्ष में जिला बाल भलाई कमेटी के चेयरमैन डॉ. दिनेश गुप्ता और डॉ. मोनिका गुप्ता ने गुप्ता नर्सिग होम में सेमिनार का आयोजन किया, जिसका महत्व पर्यावरण में बढ़ते हुए प्लास्टिक प्रदूषण से मनुष्य और जानवरों के बढ़ रहे रोगों के उत्पन्न होने के कारण, निवारण के उपायों संबंधी जागरूक किया।

डॉ. मोनिका गुप्ता ने बताया कि विश्व में औसतन 380 मिलियन टन वार्षिक प्लास्टिक का उत्पादन होता है। जिसका अधिकतम वेस्ट पर्यावरण प्रदूषित करने का कारण बनता है। प्लास्टिक से पैदा होने वाले जहरीले केमिकल कैंसर के अलावा कई प्रकार की बीमारियों का कारण बनते है। सेमिनार के दौरान डॉ. दिनेश गुप्ता ने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ रखें व अपना थैला लेकर बाजार जाए। उन्होंने लोगों को सालविया लेब की मदद से कपड़े के थैले व पौधे बांटे। इस अवसर पर डॉ. गुरदेश मेहता, अखिल, दलजीत सिंह, मनप्रीत, शरण, राजिंदर कौर, शरणजीत कौर और बलजीत कौर उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!