संवाद सहयोगी, तरनतारन : धन-धन बाबा जीवन सिंह जी की याद को समर्पित नगर कीर्तन रविवार को श्री दरबार साहिब से रवाना हुआ। अमृतसर जिले के गांव गगोमाहल के लिए नगर कीर्तन को रवाना करते समय हेड ग्रंथी सतपाल सिंह ने संगतों को बाबा जीवन सिंह जी की कुर्बानी से अवगत करवाया। उन्होंने बताया कि हिदू धर्म की रक्षा लिए नौवीं पातशाही श्री गुरु तेग बहादुर साहिब जी ने चांदनी चौक (दिल्ली) में शहादत दी थी। गुरु जी के पावन शीश को लेकर बाबा जीवन सिंह जब श्री गुरु गोबिद सिंह जी के पास पहुंचे तो उनको रंगरेटा गुरु का बेटा का खिताब दिया गया था। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के पावन स्वरूप वाली पालकी साहिब पर संगतों ने फूलों की वर्षा की। पांच प्यारों की अगुआई में नगर कीर्तन मौके साहिब सिंह मुरादपुरा, जसवंत सिंह गिल, दिलबाग सिंह ढोटियां, मनप्रीत सिंह, बलविदर सिंह पलासौर, जगबीर सिंह, मुखतार सिंह उसमा, जोगा सिंह शहाबपुरा, मनजीत सिंह, लक्खा सिंह वल्टोहा के अलावा बाबा जीवन सिंह समाज सेवा सोसायटी के सदस्यों ने पांच प्यारों को सम्मानित किया।

इस मौके पर मैनेजर धरविदर सिंह माणोचाहल, दिलबाग सिंह शहाबपुर, सुखदेव सिंह लाखणा, बलविदर सिंह, सुरिदर सिंह, रसाल सिंह, कश्मीर सिंह, सुरजीत सिंह, गुरप्रीत सिंह झब्बाल, मनजिदर सिंह, रणजीत सिंह मौजूद थे।

Edited By: Jagran