संवाद सूत्र, मालेरकोटला

विधानसभा चुनाव में लोकतंत्र के बागवान बुजुर्ग वोटरों पर चुनाव आयोग द्वारा अधिक फोकस किया जा रहा है, ताकि चुनाव में मतदान प्रतिशत को बढ़ाया जा सके व बुजुर्ग किसी भी वजह से मतदान से वंचित न रहें। जिला मालेरकोटला डीसी माधवी कटारिया के निर्देशों पर ब्लाक लेवल अफसर बूथ नंबर 147 अख्तर अली द्वारा राष्ट्रीय वोटर दिवस पर विधानसभा हलका 105 मालेरकोटला की 109 वर्षीय दो बुजुर्ग महिला नसीबन व बीबी रल्ली को घर जाकर सम्मानित किया गया। बीएलओ ने दोनों महिलाओं को बताया कि वह बुजुर्ग वोटरों की सुविधा के लिए घर पर बैलेट पेपर के जरिये वोट डालने की सुविधा हैं, जिसके तहत बुजुर्ग घर से ही मतदान कर सकेंगी, लेकिन दोनों बुजुर्ग वोटरो ने कहा कि वह पहले की तरह खुद पोलिग बूथ पर जाकर वोट डालेंगी। कुछ लोग मतदान के दिन मतदान करने से गुरेज कर जाते हैं, लेकिन यह संविधान के हक से मुंह मोड़ने वाली बात है। हर वोटर को अपने मतदान का इस्तेमाल अवश्य करना चाहिए। बीएलओ अली ने कहा कि बुजुर्गों का यह जज्बा काबिलेतारीफ है। अन्य वोटरों को भी इनसे प्रेरणा लेना चाहिए। उन्होंने नौजवान वोटरों से अपील की कि वह भी बुजुर्गों की भांति जज्बा दिखाएं व लोकतंत्र के मिले मतदान के अधिकार का गंभीरता से प्रयोग करें। सभी को बिना किसी डर व भय के अपना मतदान करना चाहिए व इस विधानसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत को बढ़ाने में सहयोग करें।

डीसी माधवी कटारिया ने कहा कि सभी वोटरों को बुजुर्ग वोटरों से प्रेरणा लेकर अपने संवैधानिक हक का इस्तेमाल करना चाहिए। मतदान करना प्रत्येक नागरिक का मौलिक अधिकार है। इसका इस्तेमाल बगैर किसी लालच व डर के करना चाहिए। इस मौके नए वोटर बने नौजवानों को बधाई देते हुए अपनी जिम्मेदारी निभाने को प्रेरित किया।

Edited By: Jagran