संवाद सहयोगी, अहमदगढ़ (संगरूर) : नजदीकी गांव सरौंद के मालेरकोटला रोड पर एक मंदिर में शुक्रवार को शिवलिग की तोड़फोड़ करने से हिदू भाईचारे में रोष है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस बल व अधिकारी मौके पर पहुंचे व स्थिति का जायजा लिया। पुलिस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच पड़ताल आरंभ कर दी। वहीं हिदू संगठनों ने घटनास्थल के समीप भूख हड़ताल आरंभ कर दी है। दिन भर इलाके में तनावपूर्ण माहौल बना रहा।

गांव सरौंद में एक पुरातन मंदिर है। मंदिर की देखरेख कर रहे पूर्व कैप्टन परमजीत कुमार ने बताया कि शनिवार सुबह जब उसका परिवार मंदिर खोलने के लिए पहुंचा तो देखा कि प्राचीन शिवलिग की तोड़फोड़ हो चुकी थी व शिवलिग का एक हिस्सा अलग से बाहर पड़ा हुआ था। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। एसपी मालेरकोटला अमनदीप सिंह बराड़, एसपी हरप्रीत सिंह हुंदल मौके पर पहुंचे व जांच पड़ताल आरंभ कर दी। लोगों का कहना है कि किसी शरारती तत्व ने इस घिनौने अपराध को अंजाम दिया है। लोगों में इस बात की भी चर्चा है कि मंदिर परिसर में बेसहारा पशु घुस जाते हैं, हो सकता है कि पशुओं की चपेट के कारण शिवलिग खंडित हो गया है।

जत्थेदार गुरजीवन सिंह सरोंद, पूर्व कैप्टन परमजीत कुमार, पंचायत व अन्य ग्रामीणों ने इस घटना की कड़ी निदा की व समूह भाईचारे को आपसी एकता व शांति बनाए रखने की अपील की। बजरंग दल के राष्ट्रीय नेता हितेश भारद्वाज ने मांग की कि पुलिस प्रशासन आरोपितों को जल्द से जल्द बेनकाब करके उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करे। अपनी मांग को लेकर उन्होंने मंदिर समीप ही भूख हड़ताल आरंभ कर दी।

शाम तक डीएसपी संदीप वडेरा, डीएसपी अमरगढ़ राजन शर्मा, एसएचओ हरमेश सिंह, एसएचओ विन्नरजीत सिंह, चौंकी इंचार्ज हरमीत सिंह सहित भारी गिनती में पुलिस बल तैनात रहा।

----------------------

पुलिस पूरी गंभीरता से मामले की जांच कर रही है। जल्द ही मामले की सच्चाई सामने आ जाएगी।

--- एसपी हुंदल ------------------ सिविल प्रशासन व पुलिस प्रशासन की टीमें लगातार जांच पड़ताल करने में जुटी हैं। जल्द ही मामले की सच्चाई सामने आ जाएगी। --बादलदीन, ड्यूटी मजिस्ट्रेट

Edited By: Jagran