जागरण संवाददाता, नंगल : जिला रूपनगर यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष डा. अच्छर शर्मा ने स्पीकर राणा केपी सिंह को श्री आनंदपुर साहिब से प्रत्याशी बनाने के फैसले को गलत बताया है। उन्होंने पार्टी हाईकमान के फैसले का विरोध जताते हुए कहा है कि कड़े विरोध के चलते पार्टी ने श्री आनंदपुर साहिब से प्रत्याशी की घोषणा करके इस सीट को खतरे में डाला है।

टिकट के दावेदार रहे डा. अच्छर शर्मा ने कहा कि राणा केपी सिंह का विधानसभा क्षेत्र में काफी विरोध है। विरोध के सभी ठोस कारणों से पार्टी हाईकमान को अवगत भी करवाया गया था। ऐसे में उन्हें प्रत्याशी बनाने का फैसला लेकर इस सीट को खतरे में डाल दिया गया है। ज्यादातर कांग्रेस के पुराने सक्रिय कट्टर वर्कर इस फैसले से खुश नहीं हैं, क्योंकि वे पहले ही लंबित पड़े अनेकों जनहित के मसलों को लेकर राणा केपी सिंह की कार्यप्रणाली से असंतुष्ट चल रहे हैं।

चन्नी को हलका चमकौर साहिब का उम्मीदवार बनाया

कांग्रेस हाई कमान द्वारा पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को फिर विधान सभा हलका चमकौर साहिब आरक्षित से उम्मीदवार बनाया है। चन्नी हलका चमकौर साहिब से लगातार चौथी बार चुनाव लड़ रहे हैं। 2007 में आजाद तौर पर चुनाव लड़कर शिअद के पूर्व मंत्री बीबी सतवंत कौर संधू को,2012 में शिअद के बीबी जगमीत कौर संधू को तीसरी बार 2017 का चुनाव में आप के उम्मीदवार डा. चरणजीत सिंह को 10 हजार से ऊपर वोटों से मात दे कर पहली बार कैबिनेट मंत्री बने और इसी सैशन के आखिरी समय में मुख्य मंत्री बन गए। चन्नी जिनका इस बार चमकौर साहिब समेत आदमपुर हलके से भी चुनाव लड़ने के चर्चे थे, लेकिन जारी सूची में चन्नी सिर्फ चमकौर साहिब से ही चुनाव लड़ रहे हैं।

Edited By: Jagran