जेएनएन, पटियासा। नाभा जेल को तोड़कर फिल्मी अंदाज में खालिस्तान लिब्रेशन फोर्स (केएलएफ) के आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू व पांच गैंगस्टरों को भगाने में शामिल मुख्य आरोपी गैंगस्टर चन्नप्रीत सिंह उर्फ चन्ना, हरजोत सिंह व रंजीत सिंह कलकट को स्पेशल सेल ने लाजपत नगर से गिरफ्तार किया है। दिल्ली से पंजाब भागने की फिराक में लगे बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग की कोशिश की, लेकिन टीम ने उन्हें दबोच लिया। इनके पास से 3 पिस्टल व 7.65 एमएम के 17 कारतूस बरामद किए गए। नाभा जेल से आतंकी समेत गैंगस्टरों को भगाने की साजिश कई महीने पहले रची गई थी और इसकी फंडिंग के लिए सितंबर में इन्होंने लुधियाना के मॉडल टाउन में एक व्यापारी के घर में डकैती भी डाली थी। स्पेशल सेल डीसीपी प्रमोद कुमार कुशवाहा ने बताया कि 27 नवंबर को नाभा जेल की घटना के बाद सक्रिय दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने 28 नवंबर की रात गोवा भागने के लिए निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पहुंचे आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू को गिरफ्तार किया था।

वहीं मिंटू के साथ पहुंचा कश्मीर सिंह फरार हो गया था। इसके बाद स्पेशल सेल की टीमें अन्य गैंगस्टरों की तलाश में जुट गई थीं। डीएसपी ने बताया कि दिल्ली व पंजाब पुलिस को सूचना मिली कि गैंगस्टर लाजपत नगर में कहीं ठहरे हैं। क्राइम इंटेलीजेंस एजेंसी पटियाला के इंस्पेक्टर बिक्रम सिंह ने सेल दक्षिण रेंज इंस्पेक्टर शिव कुमार के साथ लाजपत नगर में जांच शुरू की।

बुधवार देर शाम जानकारी मिली कि लाजपत नगर मूलचंद फ्लाईओवर से गैंगस्टर पंजाब भागने की तैयारी में हैं। तत्काल टीम मौके पर पहुंची तो गैंगस्टरों ने फायरिंग करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने फायर होने से पहले ही उन्हें दबोच लिया। गिरफ्तार गैंगस्टरों की पहचान गढ़दीवाला (होशियारपुर) निवासी चन्नप्रीत सिंह उर्फ चन्ना, गांव दल्लेवाला (होशियारपुर) निवासी हरजोत सिंह और ईस्ट ऑफ कैलाश प्रकाश मोहल्ला (दिल्ली) निवासी रंजीत सिंह कलकट शामिल थे।

पढ़ें : KLF सरगना मिंटू को नाभा लाया गया, 20 तक पुलिस रिमांड पर

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!