Move to Jagran APP

Rahul Gandhi: 'अरबपतियों का कर्जा माफ, किसानों को दिए काले कानून', पटियाला में राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

पटियाला के पोलो ग्राउंड में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पीएम मोदी (PM Modi) पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने पटियाला से कांग्रेस प्रत्याशी धर्मवीर गांधी के पक्ष में वोटिंग अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि लड़ाई संविधान की है। एक तरफ कांग्रेस पार्टी इंडिया अलायंस संविधान की रक्षा कर रहा। दूसरी तरफ बीजेपी आरएसएस संविधान को बदलना और खत्म करना चाहते हैं।

By Jagran News Edited By: Deepak Saxena Wed, 29 May 2024 05:39 PM (IST)
पटियाला में राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना।

जागरण संवाददाता, पटियाला। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi In Patiala) ने पोलो ग्राउंड पहुंचकर पटियाला से कांग्रेस प्रत्याशी धर्मवीर गांधी के लिए वोटिंग अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान लाएंगे। उन्होंने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि लड़ाई संविधान की है। मोदी ने अरबपतियों का कर्जा माफ किया है, साथ ही किसानों काले कानून दिए हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि गर्मी में दूर-दूर से आप आए, दिल से आपका धन्यवाद करता हूं। कुछ साल पहले मैं लोकसभा में धर्मवीर गांधी से मिला। मिलकर पता लग गया कि गांधी कांग्रेस की विचारधारा के हैं। मुझे मालूम था कि गांधी कभी न कभी कांग्रेस में आएंगे। आज खुशी है।

उन्होंने कहा कि लड़ाई संविधान की है। एक तरफ कांग्रेस पार्टी इंडिया अलायंस संविधान की रक्षा कर रहा। दूसरी तरफ बीजेपी आरएसएस संविधान को बदलना और खत्म करना चाहते हैं। हिंदुस्तान में अलग-अलग विचारधारा, भाषा, धर्म और जात हैं। इन चीजों की रक्षा संविधान करता है। अगर पंजाब एक राज्य है। पंजाब को इज्जत मिलती है। यहां अलग-अलग धर्म के लोग रहते हैं। अगर अलग-अलग धर्म जाति के लोगों को इज्जत मिलती है तो उसे संविधान इजाजत देता है।

मोदी ने अरबपतियों का कर्जा किया माफ, किसानों को दिए काले कानून- राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि हिंदुस्तान अलग भाषाओं और धर्म का देश है इसलिए संविधान की रक्षा जरूरी है। जो भी गरीब लोगों को मिला है वह संविधान ने दिया है। बीजेपी कहती है कि हम संविधान को बदल देंगे, लेकिन आप इसे पूरा नहीं कर पाओगे क्योंकि हम सब मिलकर इसके खिलाफ खड़े हैं। किसान पंजाब और हिंदुस्तान के रीढ़ की हड्डी हैं। किसान भोजन देने के लिए अपना खून पसीना बहाता है। नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने दस साल में किसानों के लिए कुछ नहीं किया। अरबपतियों का कर्जा माफ किया लेकिन किसानों को केवल काले कानून दिए।

पटियाला में राहुल गांधी ने कहा कि पहला काम किसानों का कर्जा माफ करने का होगा। मगर हम सिर्फ एक बार कर्जा माफी की बात नहीं करते। हम चाहते हैं कि जब भी किसानों को जरूरत हो उनका कर्जा माफ होना चाहिए। इसके लिए एक कमेटी का गठन करेंगे जो रिक्मेंडेशन देगी किसानों का कर्जा माफ होगा।

किसान फ्रेंडली पॉलिसी बनाएंगे- राहुल गांधी

उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी फसल का सही दाम नहीं मिलता। दूसरा काम किसानों के लिए कानूनी न्यूनतम समर्थन दाम किसानों को देंगे। हम गारंटी देते हैं कि किसानों का कर्ज माफ होगा और न्यूनतम समर्थन दाम मिलेगा। नुकसान होता है, लेकिन पैसा नहीं मिलता। हम बीमा के नियम बदलेंगे और किसान फ्रेंडली पॉलिसी बनाएंगे। अडानी को एयरपोर्ट, विंड समेत सारा कारोबार एक व्यक्ति को सौंप दिया। अडानी के शेयर के दाम मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद निरंतर बढ़ते गए। हम गरीब परिवारों की लिस्ट बनाएं। हर परिवार से एक महिला को चुना जाएगा और सरकार हर महीने आठ हजार प्रति महीना देगी।

ये भी पढ़ें; Lok Sabha Election 2024: पंजाब में बागियों ने बढ़ाई कांग्रेस की 'टेंशन', मुक्तसर के पार्षद ने थामा भाजपा का दामन

राहुल गांधी ने किए ये वादे

राहुल गांधी ने पटियाला में कहा कि आशा और आंगनवाड़ी का वेतन दोगुना होगा। मनरेगा की देहाड़ी 400 रुपए होगी। मोदी ने अग्निवीर योजना दी। एक अमीर घर का बेटा जिसे हर सुविधा मिले, जबकि गरीब के घर के बेटे को कंप्नसेशन और पेंशन न मिले और न ही कोई सुविधा मिले। सरकार बनते ही अग्निवीर योजना रद्द होगी। हम युवाओं के लिए 30 लाख सरकारी नौकरी देने का दावा किया। क्रांतिकारी स्कीम के तहत बेरोजागरों को एक साल की नौकरी मिलेगी। प्राइवेट, सरकारी विभागों में एक साल की नौकरी मिलेगी। 8500 प्रति महीना युवाओं के खाते में जाएगा।

नोटबंदी और जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को सुला दिया- राहुल गांधी

करोड़ों महिलाओं और युवाओं और किसानों के खाते में पैसे डालें जिससे वो देश में खर्च करें। इससे जैसे ही आप यह चीजें खरीदेंगे इसकी डिमांड बढ़ेगी, जिससे बंद फैक्ट्रियां चालू हो जाएंगी। मोदी सरकार ने जो जीएसटी और नोटबंदी से फैक्ट्रियां बंद हैं वह चालू होंगी और युवाओं को नौकरियां मिलेंगी। नोटबंदी और जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को सुला दिया। हम गरीबों की सरकार चलाएंगे। गरीबों और मजदूरों की मदद करेंगे। इन्हें भारी बहुमत से जिताकर लोकसभा में भेजें। यह लोकसभा में आपकी आवाज बुलंद करेंगे।

ये भी पढ़ें: 'अगर प्रायश्चित के लिए जा रहे तो...', कन्याकुमारी में पीएम मोदी के 'ध्यान' पर कपिल सिब्बल का तंज