जागरण संवाददाता, मानसा। गैंगस्टर दीपक टीनू के फरार होने के मामले में उसकी 'गर्लफ्रेंड' को मुंबई से गिरफ्तार किया गया है। चिकित्सीय परीक्षण के बाद उसे रविवार काे मानसा कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उसे 14 अक्टूबर तक 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पकड़ी गई युवती को मानसा जिले के बाहर थाने ले जाया गया है। गाैरतलब है कि सीआइए प्रभारी से बर्खास्त आरोपित प्रीतपाल को भी राजपुरा थाने में स्थानांतरित कर दिया गया है।

लुधियाना की रहने वाली है युवती

गौरतलब है कि युवती का नाम जितिंदर कौर बताया जा रहा है जो लुधियाना की रहने वाली है। सूत्रों की मानें तो दीपक टीनू के भागने की योजना गोइंदवाल साहिब में पहले से ही बनाई गई थी। उधर, दीपक टीनू के फरार मामले के बाद उसे भगाने में 'गर्लफ्रेंड' की संलिप्तता को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं चल रही थी। हालांकि दीपक टीनू अब भी पुलिस की गिरफ्त में नहीं है। अब पुलिस के लिए बड़ा सवाल यह होगा कि टीनू कहां है। इसके अलावा टीनू ने प्रितपाल को अपने भरोसे में कैसे लिया और भागने में कैसे कामयाब हुआ।

आधी रात को फरार हो गया था टीनू

गाैरतलब है कि दीपक टीनू 1-2 अक्टूबर की आधी रात को फरार हो गया था। इस मामले में सीआइए प्रभारी प्रीतपाल सिंह के खिलाफ साजिश रचने के आरोप में केस दर्ज कर उसे 7 अक्टूबर काे गिरफ्तार कर लिया था। उन्हें रिमांड पर लिया गया और बाद में फिर से पेश किया गया और दूसरी बार पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। दीपक टीनू के फरार होने के मामले में 'एसआइटी' प्रितपाल से लगातार पूछताछ कर रही है और प्रीतपाल ने अहम खुलासे भी किए हैं।

दीपक टीनू को भगाने देने में युवती का हाथ

एडीजीपी (एजीटीएफ) एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स प्रमोद बान ने कहा कि लड़की को गिरफ्तार कर लिया गया है। दीपक टीनू को भगाने में उसका हाथ था। इस युवती के पुलिसकर्मी होने के संबंध में उसने कहा कि नहीं,  वह कर्मचारी नहीं थी।

यह भी पढ़ें-Ludhiana Travel Alert: फेस्टिवल सीजन में फिरोजपुर रोड पर मिलेगी ट्रैफिक में राहत, आरती चौक का एक साइड खुलेगा

यह भी पढ़ें-Strike In Punjab: कर्मचारियाें का हल्ला बाेल, सरकारी दफ्तराें में कल से 5 दिन कामकाज रहेगा ठप

Edited By: Vipin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट