बठिंडा [गुरप्रेम लहरी]। पाकिस्तानी पंजाबी गायक शौकत अली की तबियत काफी नासाज बताई जा रही है। कुछ माह पहले उनका जीएमआइसी खैरपुर में लिवर को ट्रांस्पलांट किया गया था। इससे पहले उनकी हार्ट की बाईपास सर्जरी भी हो चुकी है और शूगर की बीमारी से भी लंबे समय से पीड़ित हैं। करीब पांच माह पहले उनको अस्पताल से छुट्टी भी मिल गई थी, लेकिन अब फिर से उनकी तबियत काफी खराब हो गई, इसलिए उनको लाहौर के कंम्बाइंड मिलिट्री अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गायक शौकत अली के स्वास्थ्य में सुधार हो इसके लिए पंजाब के कलाकार भी दुआएं कर रहे हैं। 

शौकत अली के बेटे अमीर शौकत ने बताया कि चीफ आर्मी स्टाफ जनरल उमर जावेद बाजवा के निर्देशों पर पाकिस्तान की आर्मी द्वारा उनका इलाज किया जा रहा है, लेकिन उनकी तबियत ठीक होने के बजाय ज्यादा बिगड़ रही है। उन्होंने पंजाबी संगीत के दीवानों को अपील की कि वे उनके वालद की तबियत के लिए दुआ करें।

शौकत अली के प्रसिद्ध गीत

शौकत अली के प्रसिद्ध गीत हीर वारिस शाह, छल्ला, जग्गा, कदे तां हस बोल वे, बेवफा संगदिल, जिक्र, मां जन्नत दा परछावां, मां दे अथरू, क्यों दूर दूर रेहदें ओ, तेरे गम को जान आदि हैंं।

यह भी पढ़ें: कोविड प्रोटोकाल तोड़ा तो पंजाब में लग सकती हैं और पाबंदियां, सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा 8 को लेंगे फैसला

पंजाब के कलाकारों ने मांगी दुआ

हमारी बात शौकत अली व उनके बेटे से अकसर ही होती रहती है। उनका हाल चाल जानते रहते हैं। अभी कुछ दिनों से उनकी तबियत कुछ ठीक नहीं चल रही। हम परमात्मा के आगे दुआ करते हैं कि उनकी आयु लंबी करे ताकि वे दोनों देशों की सेवा करते रहे। - हरभजन मान,पंजाबी लोक गायक

----

शौकत अली हमारे संगीतक परिवार के सीनियर गायकों में से एक हैं। उन्होंने दोनों देशों में पंजाबी मां बोली को प्रफुल्लित किया है। उन्होंने अपने गीतों के जरिए भारत व पाकिस्तान दोनों देशों के अलग देशों को जोड़ने का काम किया है। हम प्रमात्मा के आगे दुआ करते हैं कि उनकी उमर लोक गीत के जितनी हो। -बलकार सिद्धू,पंजाबी लोक गायक 

यह भी पढ़ें : क्रिकेटर खेल कोटे से किसी लाभ को लेने का हकदार नहीं, PPSC ने हाई कोर्ट में हलफनामा देकर दी जानकारी

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021