Move to Jagran APP

रोडरेज मामले में पटियाला जेल में बंद नवजोत सिंह सिद्धू की तबीयत बिगड़ी, पीजीआइ चंडीगढ़ लाया गया

कांग्रेस नेता व पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू की सोमवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई। सिद्धू पटियाला जेल में रोडरेज केस में बंद हैं। नवजोत सिंह सिद्धू को मेडिकल जांच के लिए पीजीआइ चंडीगढ़ लाया गया। बताया जा रहा है कि उनके लिवर में दिक्कत है।

By Kamlesh BhattEdited By: Published: Mon, 06 Jun 2022 12:12 PM (IST)Updated: Mon, 06 Jun 2022 01:38 PM (IST)
नवजोत सिंह सिद्धू को मेडिकल जांच के लिए पीजीआई चंडीगढ़ लाया गया।

जेएनएन, पटियाला/चंडीगढ़। रोडरेज मामले में पटियाला की सेंट्रल जेल में बंद कांग्रेस नेता व पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को मेडिकल जांच के लिए पीजीआइ चंडीगढ़ लाया गया है। बताया जा रहा है कि सिद्धू की तबीयत अचानक बिगड़ गई, जिससे उन्हें पीजीआइ चंडीगढ़ लाया गया।

नवजोत सिंह सिद्धू को सोमवार सुबह 9:00 बजे पटियाला जेल से चंडीगढ़ पीजीआइ पुलिस सुरक्षा के बीच इलाज के लिए लाया गया। यहां नवजोत सिंह सिद्धू को पीजीआइ के हेप्टोलाजी विभाग में दिखाया गया। पीजीआइ प्रवक्ता की मानें तो उनके लिवर से संबंधित दो से तीन टेस्ट किए गए। इसके बाद उन्हें कुछ दवाइयां लिखकर डिस्चार्ज कर दिया गया। नवजोत सिंह सिद्धू इस दौरान पीजीआइ में करीब एक घंटे से अधिक समय तक मौजूद रहे।

पुलिस सुरक्षा के बीच जब नवजोत सिंह सिद्धू को पीजीआइ चंडीगढ़ लाया गया तो इस दौरान पंजाब कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता और उनके परिवार के कुछ लोग मौजूद थे। बताया जा रहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू को बीते कई दिनों से लिवर में दिक्कत थी, जिसके चलते सोमवार को उनकी अचानक तबीयत खराब होने के चलते पीजीआई चंडीगढ़ इलाज के लिए लाया गया।

बता दें, इससे पहले 23 मई को भी नवजोत सिंह सिद्धू की अचानक तबीयत बिगड़ गई थी। उनका मेडिकल चेकअप पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में किया गया था। नवजोत सिंह सिद्धू को सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाए जाने के बाद 20 मई को पटियाला की सेंट्रल जेल में बंद किया गया था।

बीमारी के कारण सिद्धू की डाइट का मामला अदालत में भी पहुंचा था। मेडिकल जांच के बाद डिकल बोर्ड ने डाइट प्लान की जिला अदालत में पेश किया था। डाइट रिपोर्ट में सिद्धू का वजन कम करने और रोजाना 30 से 45 मिनट व्यायाम करने के लिए सुबह औषधीय पौधे रोज मैरी की चाय और रात में कैमोमाइल चाय लेने की सलाह दी गई थी। 

अदालत में बताया गया था कि नवजोत सिद्धू के लिवर की चर्बी बढ़ गई है। उनके फेफड़ों में खून के थक्के भी पाए गए थे। सिद्धू को गेहूं से एलर्जी नहीं है, लेकिन वह वजन घटाने के लिए गेहूं की रोटी का सेवन नहीं करते हैं। अदालत में बताया गया था कि ऐसे में वह जेल में गेहूं की रोटी की जगह फल और सलाद खा रहे हैं।

ये है सिद्धू का डाइट प्लान

  • सुबह-सुबह एक कप रोज मैरी की चाय, आधा गिलास सफेद कद्दू का रस या एक गिलास नारियल पानी दिया जा सकता है।
  • नाश्ते में एक कप लैक्टोज फ्री दूध के साथ एक चम्मच अलसी, तरबूज के बीज, 5 या 6 बादाम के दाने, एक अखरोट, दो पेकान के दाने दे सकते हैैं।
  • इसके बाद (मिड मार्निंग) चुकंदर, घी, खीरा, मौसमी, तुलसी और पुदीने के पत्ते, ओला, अजवाइन के पत्ते, ताजी हल्दी, गाजर और एक गिलास एलोवेरा जूस दिया जा सकता है।

This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.