लुधियाना, जेएनएन। स्वाति नगर इलाके में पत्नी से परेशान युवक ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उस समय तो पुलिस ने धारा 174 के तहत कार्रवाई निपटा दी। मगर जांच के दौरान पता चला कि मृतक की पत्नी उसकी अचल संपत्ति हड़प कर चुकी थी। इससे परेशान होकर उसने मौत का रास्ता चुना था। अब घटना के 8 महीने बाद पुलिस ने आरोपित महिला के खिलाफ आत्महत्या को मजबूर करने के आरोप में केस दर्ज करके उसकी तलाश शुरू कर दी है।

एसआइ तमन्ना देवी ने बताया कि उसकी पहचान गुरुग्राम के डीएलफ के फेज-3 की रहने वाली 24 वर्षीय आदिति खत्री पुत्री नरिंदर कुमार के रूप में हुई। पुलिस ने स्वाति नगर की गली नंबर 3 निवासी मृतक की मां नीना बेदी की शिकायत पर केस दर्ज किया। जुलाई 2020 में पुलिस कमिश्नर को दी शिकायत में उसने बताया कि उसका बेटा 25 वर्षीय बेटा हिमांशु प्राइवेट नौकरी करता था।

तीन लाख रुपये और लाखों के गहने माता-पिता को भेजे थे

लाकडाउन में आदिति ने हिमांशु के तीन लाख रुपये और लाखों के गहने अपने माता-पिता को भेज दिए। जब हिमांशु ने उससे पैसे और आभूषण वापस लाने के लिए कहा तो उसने झगड़ा करना शुरू कर दिया। वह उस पर झूठा मुकदमा दर्ज कराने की धमकियां दिया करती थी। इसके चलते हिमांशु मानसिक तनाव का शिकार हो गया। तनाव के बीच 17 जून 2020 के दिन उसने घर में फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली। तमन्ना देवी ने कहा कि आरोपित की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की एक टीम को गुरुग्राम भेजा जा रहा है।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Vipin Kumar