लुधियाना, (जगराओं) संवाद सहयाेगी। Fraud In Ludhiana: जाली दस्तावेजों के आधार पर प्राइवेट बैंक में नौकरी हासिल करना एक युवती काे भारी पड़ गया। सात साल बाद सर्टिफिकेट की हुई जांच में वह जाली पाए जाने पर प्राइवेट बैंक में असिस्टेंट मैनेजर के खिलाफ थाना सिटी में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि लुधियाना में फर्जी सर्टीफिकेट बनाने का सेंटर चल रहा है। यहां पर हजाराें रुपये देकर फर्जी सर्टीफिकेट बनाए जा रहे हैं। देहात पुलिस की जांच अगर सही दिशा में जाती है तो शहर के नामी सेंटर संचालक पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

सब इंस्पेक्टर कमलदीप कौर ने बताया कि पवनदीप कौर निवासी अमन पार्क लुधियाना असिस्टेंट मैनेजर प्रोडक्ट लाइफ इंश्योरेंस जगराओं की शिकायत गांव के गुरजीत सिंह निवासी हांव रुमी द्वारा पुलिस को की गई थी। गुरजीत के मुताबिक पवनदीप कौर ने बीए के जाली सर्टिफिकेट बनाकर नौकरी हासिल की है। शिकायत की जांच डीएसपी राजेश कुमार ने की है।

यह भी पढ़ें-Punjab: देह व्यापार के अड्डे पर अश्लील वीडियो बना ब्लैकमेल करने वाला रैकेट पकड़ा, रुपये उधार लेकर घर बुलाती थी महिला

 

अभी फाइल मुझे नहीं मिली, सर्टीफिकेट बनाने वाले तक भी पहुंचेंगे

चौकी बस स्टेंड प्रभारी सब इंस्पेक्टर कमलदीप कौर मामले की जांच कर रही है। उनका कहना है कि अभी मुझे फाइल नहीं मिली है। जिस शख्स ने सर्टीफिकेट बनाया या फिर इसका इस्तेमाल किया है। उसे अब गिरफ्तार किया जा सकता है। बयान दर्ज कर पुलिस मामले की जांच को आगे बढ़ाएगी। इसके साथ ही पुलिस आरोपित गगन से सर्टीफिकेट बनाने वाले ऐसे लोगों को पता लगाया जाएगा जो फर्जी सर्टिफिकेट बनवाकर नौकरी में लगे हैं। मामले की तत्परता से जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें-पंजाब सरकार की बड़ी कार्रवाई, नियमों का उल्लंघन करने वाली लुधियाना की तीन यूनिटों पर 2.46 करोड़ का जुर्माना

यह भी पढ़ें-पंजाब की दगाबाज दुल्हनः ससुराल कर गई कंगाल, कनाडा जाकर पति को फोन पर कहा- तू मुझे पसंद नहीं

 

 

Edited By: Vipin Kumar