जागरण संवाददाता, पटियाला। Fiancee Murder Case: भोली भाली युवतियों को हवस के लिए प्यार के जाल में फंसाकर उनकी हत्या करने वाले नवनिंदरप्रीत पाल सिंह ने पुलिस रिमांड के दौरान खुलासा किया कि उसे नाइट्रोजन गैस का इस्तेमाल करके हत्या करने का आइडिया हालीवुड फिल्में देखने से मिला। उसने कई हालीवुड फिल्में देखी और नाइट्रोजन सिलेंडर का इस्तेमाल कर हत्या करने तरीकों को इंटरनेट पर खंगाला। 

पुलिस अधिकारियों ने बताया पुलिस जांच के दौरान नवनिंदरप्रीत पाल सिंह ने खुलासा किया कि उसने पिछले लगभग छह महीनों से छपिंदरपाल और सुखदीप की हत्या करने का मन बना लिया था, इसलिए उसने क्राइम थ्रिलर फिल्में देखनी शुरू की और बिना किसी मार काट के हत्या का उपयुक्त तरीका खोजने के लिए इंटरनेट की मदद ली। 

बता दें कि यह मामला बठिंडा की छपिंदरपाल कौर (28) की हत्या की जांच के दौरान सामने आया। छपिंदरपाल कौर के लापता होने की नवनिंदरप्रीत ने झूठी कहानी उसके परिवार को बताई थी। इसके बाद जांच के दौरान पता चला की छपिंदर की हत्या की गई है। उसकी लाश को बेडरूम में दबाया गया था। इसके बाद एक और खुलासा हुआ। पूछताछ में आरोपित ने पहली पत्नी सुखदीप की हत्या की बात भी कबूली। 

सीआइए इंचार्ज शमिंदर सिंह के मुताबिक सितंबर में सुखदीप को भवानीगढ़ की लखविंदर कौर के साथ नवनिंदर की शादी के बारे में पता चलने के बाद उनमें झगड़ा शुरू हो गया था। इसके कारण 20 सितंबर को वह एक नाइट्रोजन सिलेंडर घर लाया और सुखदीप से कहा कि इसमें आक्सीजन है और आक्सीजन लेने से बच्चे का विकास अच्छा होता है। इसके बाद आरोपित ने नाइट्रोजन गैस से उसकी हत्या कर दी थी और सुखदीप के माता-पिता को विश्वास दिला दिया कि उसकी मौत कार्डियक अरेस्ट से हुई है।

जब वक्त आएगा तो शादी कर लूंगा, कहता था परिवार को

40 साल की उम्र तक शादी करने पर परिवार द्वारा शादी का जिक्र तक न करने का सवाल जानने के लिए पुलिस ने कई घंटे तक आरोपित नवनिंदर प्रीतपाल सिंह के पिता बीएस सिद्धू से पूछताछ की। अर्बन इस्टेट फेज एक स्थित इस कोठी में आरोपित के माता-पिता रहते हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि शुरुआत में नवनिंदर प्रीतपाल सिंह को कई बार शादी के लिए कहा था। शादी का जिक्र करते ही आरोपित कहता था कि जब वक्त आएगा तो शादी कर लूंगा। माडर्न सोच वाले इस परिवार का कहना है कि शादी का फैसला नवनिंदर पर ही छोड़ दिया था कि जब वह चाहे शादी कर लेगा।

उन्होंने नवनिंदर की तीनों शादियों को लेकर जानकारी तक नहीं थी। यही नहीं, जिन दिनों बठिंडा निवासी छपिंदर कौर का कत्ल करने के बाद कमरे में गाड़ा था, उस समय बीएस सिद्धू व उनकी पत्नी कहीं बाहर गए हुए थे। परिवार के अन्य सदस्यों की अभी तक कत्ल केस में किसी भी तरह की शमूलियत नहीं पाई गई है, लेकिन उन्हें क्लीन चिट नहीं दी है। परिवार के उक्त बयान की पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी है।

विदेशी छात्रों को आनलाइन मैथ पढ़ाता था आरोपित

रिमांड के दौरान आरोपित ने बताया कि वह शुरुआत में कोचिंग सेंटर चलाता था। आइलेट्स व अन्य स्टडी सेंटर चलाने के बाद कोविड की वजह से काम बंद हुआ था। इसके बाद उसने विदेशी स्टूडेंट्स को आनलाइन मैथ की ट्यूशन देना शुरू कर दिया था और ला स्टडी करने के दौरान भी वह आनलाइन क्लासेस ले रहा था। छपिंदर कौर के साथ ला करने के बाद वापस पंजाब पहुंचने के बाद छिपंदर ने कई बार डिग्री लेने जाने की बात कही थी, लेकिन आरोपित हर बार उसे शादी के बाद डिग्री लाकर प्रैक्टिस करने की बात कहता था। इसी दौरान उसने 11 अक्टूबर को शादी की शापिंग के बहाने बठिंडा से पटियाला बुलाकर 14 अक्टूबर की रात को कत्ल कर दिया था।

Edited By: Kamlesh Bhatt