Move to Jagran APP

Farmers Protest: शंभू बॉर्डर खोलने के HC के फैसले पर 'आप' ने की सराहना, किसानों की मांगों का किया समर्थन

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने शंभू बॉर्डर खुलवाने का आदेश जारी किया है। इसका आम आदमी पार्टी ने स्वागत किया है। आप के प्रवक्ता नील गर्ग ने कहा कि साल 2013 में पीएम बनने से पहले नरेंद्र मोदी ने कहा था कि किसानों का कर्ज माफ करेंगे। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसलिए किसानों को दिल्ली जाने पर मजबूर होना पड़ा।

By Kailash Nath Edited By: Prince Sharma Wed, 10 Jul 2024 06:58 PM (IST)
शंभू बॉर्डर खोलने के HC के फैसले पर 'आप' ने की सराहना

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। पंजाब-हरियाणा की सीमा 'शंभू बॉर्डर' (जहां पिछले कई महीनों से किसान धरने पर बैठे हैं) खोलने के हाईकोर्ट के फैसले का आम आदमी पार्टी ने स्वागत किया है।

पार्टी ने कहा कि किसानों की सभी मांगे जायज हैं इसलिए केंद्र सरकार उन्हें बॉर्डर पर रोकने के बजाय उनकी मांगों को पूरा करने पर विचार करे।

किसानों से MSP कानून को लेकर किया गया वादा: नील गर्ग

पार्टी प्रवक्ता नील गर्ग ने कहा कि 2013 में प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी ने खुद कहा था कि हम किसानों का पूरा कर्ज माफ करेंगे और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के अनुसार एमएसपी पर कानून बनाएंगे। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी अपने वादे से पलट गए इसलिए किसानों को दिल्ली जाने पर मजबूर होना पड़ा है।

गर्ग ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के किसानों के साथ बड़ा धोखा किया है। उन्होंने किसानों से संबंधित अपने एक भी वादे पूरे नहीं किए, उल्टे किसानों जमीन और फसल अपने कॉर्पोरेट दोस्तों को सौंपने के लिए काले कृषि कानून उनपर थोपने की कोशिश की, जिसके कारण 750 से ज्यादा किसानों की मृत्यु हो गई।

कोर्ट के फैसले से मिलेगी आम लोगों और किसानों को राहत: नील गर्ग

उन्होंने कहा कि शुक्र है हाईकोर्ट ने इस मामले में हस्तक्षेप कर दिया नहीं तो हाईवे अनिश्चित काल के लिए बंद रहता। अब कोर्ट का फैसला आने के बाद आम लोगों और किसानों दोनों को राहत मिलेगी।

आम लोगों के लिए आवागमन आसान होगा। वहीं किसानों को शांतिपूर्ण ढंग से अपनी बात केंद्र सरकार तक पहुंचाने का फिर से मौका मिलेगा।

यह भी पढ़ें- Punjab News: पंजाब के दौरे पर आएगा 16वां वित्तीय आयोग, 16 जुलाई को CM मान ने बुलाई अधिकारियों की बैठक