लुधियाना, जेएनएन। फेसबुक पर अंजान लोगों के साथ हुई मित्रता आपको नुकसान पहुंचा सकती है, इसलिए आप फेसबुक पर आई किसी भी अंजान की फ्रेंड रिक्वेस्ट को स्वीकार न करें। ऐसी रिक्वेस्ट भेजने वाले लोग साइबर क्रिमिनल हो सकते हैं, जो आपको फाइनांशियल नुकसान पहुंचा सकते हैं। यह संदेश लुधियाना पुलिस अपने ऑफिशियल फेसबुक अकाउंट पर डालकर लोगों को जागरूक कर रही है।

पुलिस की ओर से इसमें साइबर क्राइम अलर्ट के नाम पर एक युवक की स्टोरी भी साझा की गई है। इसके अनुसार युवक को एक युवा महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। उस युवक ने रिक्वेस्ट को स्वीकार कर लिया। दोनों के बीच चैटिंग शुरू हो गई। कुछ सप्ताह बाद उस महिला ने बताया कि उसकी मां का स्वास्थ्य ठीक नहीं है। उसके इलाज के लिए उसे 55 हजार रुपये की सख्त जरूरत है। उसकी बातों में आकर उस युवक ने उसे वह रकम खाते में भिजवा दी, मगर उसके बाद उस महिला का खाता ही बंद हो गया।

ऐसे मामलों की संख्या हजारों में है, जिनमें साइबर क्रिमिनलों ने लड़की अथवा महिला बनकर हनी ट्रैप लगाया। इसमें वे कई लोगों के साथ लाखों की धोखाधड़ी कर चुके हैं। यह लोग फेसबुक, वॉट्सएप तथा अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट पर अपने शिकार पर नजरें लगाए रहते हैं। कुछ दिन अथवा कुछ सप्ताह चिकनी चुपड़ी बातें करने के बाद वे साइबर क्रिमिनल अपने शिकार को इमोशनली ब्लैकमेल करके अपने बैंक अकाउंट में रुपये जमा कराने के लिए मजबूर करते हैं। इसके लिए वे आपकी आवाज व वीडियो रिकार्डिंग का सहारा भी लेते हैं, इसलिए आम लोगों से अपील है कि ऐसे अंजान लोगों से बचें और उनकी फ्रेंड रिक्वेस्ट को स्वीकार न करें।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!