जेएनएन, अमृतसर। दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (DSGPC) द्वारा अमिताभ बच्चन से दो करोड़ रुपये दान लेने से सिख पंथ के अंदर विवाद गहरा गया है। हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (HSGPC) समेत अलग-अलग सिख संगठनों ने इस मामले में दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा से मांग की है कि सिख कौम से वह माफी मांगें और अमिताभ बच्चन से ली दान की राशि को तुरंत लौटाएं, अन्यथा सिख कौम के रोष का सामना करने को तैयार रहें।

गौर हो कि अमिताभ बच्चन ने कुछ दिन पहले दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को जनता की सुविधा के लिए स्थापित कोविड केयर सेंटर के लिए दो करोड़ रुपये दान किए थे। हरियाणा सिंह गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष संत बाबा बलजीत सिंह दादूवाल ने कहा कि अमिताभ बच्चन से दान राशि लेकर दिल्ली दंगों के प्रभावित परिवारों के सदस्यों के पुराने जख्मों को कुरेद दिया गया है। इसे किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: स्कूल में हो., लेख मत सुनाना., कॉलेज चले जाओ., ये हैं पाकिस्तान में बैठे तस्करों के कोडवर्ड, साबी से पूछताछ में हुआ खुलासा

उन्होंने कहा कि अकाली दल बादल हमेशा ही सिख पंथ के अंदर विवादों को जन्म देकर अपने राजनीतिक हितों की पूर्ति करता रहा है। एक बार फिर मनजिंदर सिंह सिरसा ने सिखों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया है। आल इंडिया सिख स्टूडेंट्स फेडरेशन के संयोजक व अकाली दल टकसाली के महासचिव रहे करनैल ¨सह पीर मोहम्मद ने भी कहा कि सिरसा ने अमिताभ बच्चन से दान राशि स्वीकार करके अपने अक्स को खराब कर लिया है। उन्होंने कहा कि अमिताभ बच्चन इस तरह की गतिविधियों से सिख कौम के अंदर अपना स्थान बनाना चाहता हैं।

यह भी पढ़ें: सोनाली फोगाट और सपना चौधरी का मुकाबला, ममता का हुड्डा प्रेम, पढ़ें हरियाणा की और भी रोचक खबरें

यह भी पढ़ें-पंजाब के इस गांव में 15 दिन में 11 की मौत; कोरोना के डर के चलते जांच से कतरा रहे लाेग