जासं, जालंधर। नेशनल अचीवमेंट सर्वे (National Achievement Survey) परीक्षा 12 नवंबर को आयोजित की जाएगी। इसकी तैयारियों को लेकर शिक्षा विभाग ने पहले ही पूरी तरह से कमर कस ली है और इसमें कोई कमी ना रहे इसके लिए अधिकारियों से लेकर शिक्षकों तक का फोकस एनएएस परीक्षा पर ही है। विद्यार्थियों की तैयारी बेहतर करवाने के लिए शिक्षा विभाग एक-एक बच्चे को स्टडी मटेरियल मुहैया करवाएगा ताकि उसकी मदद से विद्यार्थी परीक्षा की तैयारी के साथ-साथ अधिकाधिक प्रैक्टिस कर सकें। इन प्रैक्टिस शीट्स के जरिए शिक्षक विद्यार्थियों की कमियों को भी देख सकें।

तीसरी, पांचवी, आठवीं और दसवीं के स्टूडेंट्स लेंगे हिस्सा

बता दें कि यह परीक्षा तीसरी, पांचवी, आठवीं और दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए करवाई जा रही है। इसमें पहली बार सरकारी स्कूलों के साथ-साथ सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल, नवोदय विद्यालय, केंद्रीय विद्यालय और सीबीएसई से जुड़े स्कूल शामिल हो रहे हैं। इसके साथ यह परीक्षा भी सीबीएसई की तरफ से ही करवाई जा रही है।

शिक्षकों के लिए तैयार किए सैंपल प्रश्न पत्र

शिक्षकों को भी एनएएस की परीक्षा को लेकर किसी प्रकार का कोई डाउट या सवाल बाकी ना रहे, इसके लिए शिक्षा विभाग ने उनकी सहायता के लिए सैंपल प्रश्न पत्र तैयार किए हैं। जो पूरी तरह से एनएएस की परीक्षा के पैटर्न पर ही आधारित हैं। इन प्रश्न पत्रों की मदद से शिक्षक विद्यार्थियों की तैयारी के साथ साथ उन्हें प्रश्न पत्रों का फार्मेट भी बताकर जागरूक करेंगे ताकि जब एनएएस की परीक्षा शुरू हो और विद्यार्थियों के हाथों में प्रश्नपत्र आए तो उन्हें किसी प्रकार की समस्या न हो। इसके अलावा एनएएस की परीक्षा में प्रत्येक विद्यार्थी शामिल हो शिक्षकों ने अभिभावकों का भी सहयोग मांगा है।

यह भी पढ़ें - Weather Update Jalandhar : जालंधर में हल्की बूंदाबांदी से बदला मौसम का मिजाज, लोगों को गर्मी से मिली राहत

यह भी पढ़ें - लुधियाना के उद्यमियों का मुख्यमंत्री चन्नी को पत्र, इंडस्ट्री को भी बिजली के दामों में राहत देने की मांग

Edited By: Pankaj Dwivedi