जालंधर, जेएनएन। गढ़ा में सोमवार को मुस्लिम समुदाय के मजहबी झंडों को पाकिस्तानी झंडे समझ लोगों में लोगों में रोष पैदा हो गया। उन्होंने तुरंत थाना सात की पुलिस को मामले की सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर झंडे उतरवा लिए हैं। पुलिस कार्रवाई का मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कड़ा विरोध किया है। फिलहाल मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। थाना प्रभारी नवीन पाल ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

बताया जा रहा है कि मुस्लिम समुदाय के लोगों ने दस नवंबर को ईद मिलाद उन नबी के उपलक्ष्य में होने वाले कार्यक्रम को लेकर धार्मिक झंडे लगाए थे। इस्लामिक धार्मिक झंडे में हरा रंग और चांद-सितारा होना आम बात है। बच्चे झंडे लेकर गलियों में भाग रहे थे। इसकी सूचना मिलते ही कई हिंदू संगठनों के नेता भी मौके पर पहुंच गए और रोष जताने लगे। लोगों ने पुलिस बुला ली। पुलिस ने विरोध को देखते हुए झंडे लगाने वाले 2 लोगों को पकड़ा और थाने ले गई। बाद में पूरे क्षेत्र से ये झंडे उतारे लिए गए। बाद दोपहर तक पुलिस मामले की जांच कर रही थी।

 

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!