जागरण संवाददाता, जालंधर :

फैक्ट्री में लेबर का काम करने वाले लखनऊ के रहने वाले सलेश कुमार इस बार परिवार के साथ दीवाली नहीं मना सका। कारण, लंबा पिड के पास उसे मिले लावारिस बच्चे को लेकर जब किसी ने भी हामी ना भरी तो गाड़ी छूटने के डर से वह बच्चे को साथ ही ले गया। रास्ते में बरेली पुलिस द्वारा बच्चे को लेकर पूछताछ करने पर उसे वापिस भेज दिया गया। बच्चा व सलेश कुमार को रामा मंडी थाना पुलिस के हवाले करने के बाद बच्चे को नारी निकेतन भेज दिया गया है।

दरअसल, दो दिन पहले लेबर का काम करने वाले सुलेश कुमार को लंबा पिड से एक दो साल का लावारिस बच्चा मिला। बच्चो रो रहा था तो सलेश कुमार ने उसके परिजन ढूंढना शुरू कर दिया। उधर, लखनऊ जाने के लिए गाड़ी छूटने का डर भी सता रहा था। आखिरकार वह बच्चे को साथ ही ले गया। रास्ते में जीआरपी पुलिस बरेली ने उसकी कहानी सुनकर उसे वापिस भेज दिया। इस दौरान रामा मंडी पुलिस को सूचित किया गया। यहां पर पहुंचने पर रामा मंडी के एएसआइ बलविदर सिंह बच्चा लेकर चाइल्ड हेल्पलाइन के सुरिदंर सैनी के पास पहुंचे। इस दौरान सुरिदंर सैनी ने चाइल्ड वेलफेयर काउंसिल के चेयरमैन डा. जेके गुलाटी के साथ संपर्क करके उसे नारी निकेतन, नकोदर रोड में भिजवा दिया। इस दौरान सुरिदंर सैनी ने इस तरह के केस के लिए 1098 पर संपर्क करने आह्वान किया।

Edited By: Jagran