जासं, जालंधर। शारीरिक फिटनेस को लेकर साइक्लिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दोआबा कालेज में 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' की स्कीम, डीसीजे बाइकर्ज क्लब और हाक राइडर्स क्लब के रोहित शर्मा के सहयोग से 'साइक्लिंग फार फिटनेस एंड इनवायरमेंट' विषय पर सेमिनार का आयोजन दोआबा कालेज में करवाया गया। इसमें साइक्लिस्ट व पूर्व विद्यार्थी बलजीत महाजन बतौर मुख्य वक्ता के रूप में और डा. जसपाल सिंह मठारु, रोहित शर्मा विशेष मेहमान के तौर पर उपस्थित हुए। बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने इसमें भाग लेकर साइक्लिंग के लाभों के बारे में जानकारी प्राप्त की।

प्राचार्य डा. प्रदीप भंडारी ने बताया कि कालेज के पूर्व छात्र बलजीत महाजन ने बतौर साइक्लिस्ट 76 वर्ष की उम्र में दो लाख किलोमीटर की साइक्लिंग करके पूरे उत्तर भारत में कीर्तिमान स्थापित किया है। उनसे सभी युवाओं को प्रेरणा लेनी चाहिए।

बलजीत महाजन ने कहा कि साइक्लिंग अपने शरीर को तंदरुस्त रखने का एक सशक्त माध्यम है। साइक्लिंग करके न केवल हम अपने आप को फिट रखते हैं, बल्कि वातावरण को भी प्रदूषित होने से बचाते हैं। उन्होंने कहा कि उम्र केवल एक संख्या है। कोई भी व्यक्ति अपने समय का सदुपयोग करके किसी भी उम्र में बड़ी उपलब्धि प्राप्त कर सकता है। 

डीसीजे बाइकर्स क्लब करवाएगा विद्यार्थियों और अध्यापकों के लिए विशेष आयोजन

रोहित शर्मा ने उपस्थित युवाओं को साइक्लिंग को बतौर स्पोर्टस अपनाने के लिए प्रेरित किया। डा. ओमिंदर जोहल ने उपस्थिति विद्यार्थियों को साइक्लिंग अपनाने के लाभ बताकर उन्हें प्रेरित किया। प्रो. सुखविंदर सिंह ने इस मौके पर उपस्थिति लोगों को डीसीजे बाइकर्स क्लब की ओर से पूरे वर्ष किए जाने वाली इवेंट्स की जानकारी दी। साथ ही बताया कि क्लब में विद्यार्थियों और प्राध्यापकों के साथ विशेष साइक्लिंग अभियान किए जाएंगे। इस मौके पर डा. ओमिंदर जोहल, प्रो. सुखविंदर सिंह, प्रो. अर्शदीप सिंह, प्रो. राकेश कुमार, प्रो. राहुल भारद्वाज आदि थे।

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट