जागरण संवाददाता, अमृतसर। पाकिस्तान में लाहौर के पास रावी नदी में चार शव तैरते हुए मिलने के बाद आसपास के क्षेत्र में दहशत का माहौल है। चारों शव लाहौर से नारोवाल (श्री करतारपुर साहिब) को जाने वाले रास्ते पर स्थित गांव बलखी के पास रावी दरिया में बरामद हुए। इनमें से तीन शव गली सड़ी अवस्था में होने के कारण पाकिस्तान के लोगों ने उन्हें तुरंत दफना दिया है जबकि एक शव की हालत कुछ ठीक थी तो उसकी पहचान के लिए शव की तस्वीर लेकर इंटरनेट मीडिया के जरिए भारत भेजी गई। परंतु शव की हालत खराब होते देख उसे भी दफना दिया गया। यह शव सिख व्यक्ति का है।

पाकिस्तान के लोगों को आशंका है कि यह शव भारत की ओर से तैरते हुए पाकिस्तान पहुंचे हैं और हो सकता है कि यह शव भारतीयों के हों। तस्वीर के साथ भेजी गई जानकारी में यह भी बताया गया है कि चारों शव जिन लोगों के हैं उनके बाल और दाढ़ी हैं। जब ग्रामीणों ने शव को नदी से बाहर निकालने का प्रयास किया तो जिस सिख व्यक्ति का शव पहचानने की हालत में था उससे बाहर निकालने पर उसके दोनों बाजू कटे हुए मिले। उसकी तस्वीर खींचकर लाहौर क्षेत्र में वायरल की गई लेकिन उसके पाकिस्तानी होने की कोई सूचना या प्रमाण सामने नहीं आ पाया।

गौरतलब है कि इससे पहले 2014 में एक अमृतधारी महिला का शव पाकिस्तान में मिला था। उसकी तस्वीर भी ऐसे ही वायरल हुई थी और उसके मायके वालों ने उसे पहचान लिया था। बाद में पता चला था कि इस महिला की उसके ससुरालियों ने हत्या कर शव नदी में फेंक दिया था। पहचान हो जाने के तीन दिन बाद महिला का शव पाकिस्तान सरकार ने अटारी-वाघा सीमा से भारत भेजा था।

यह भी पढ़ें-  साढ़े तीन माह से अयोध्या के सिविल अस्पताल में अपनों की बाट जोह रहा जालंधर का बुजुर्ग, बेटी-बेटे के इंग्लैंड में होने की कह रहे बात

 

Edited By: Vinay Kumar