जागरण संवाददाता, जालंधर। नगर निगम के प्रशासकीय कांप्लेक्स में निगम कमिश्नर ऑफिस के बाहर खस्ताहाल फॉल सीलिंग पूरी तरह से धराशाई हो गई। मुलाजिमों को इसकी जानकारी थी और मुलाजिम खुद ही इसे तोड़ रहे थे लेकिन अचानक ही झटके के साथ पूरी फॉलसिलिंग एक साथ नीचे आ गई। गनीमत यह रही कि किसी मुलाजिम को चोट नहीं आई है। फॉल सीलिंग गिरने से फर्स्ट फ्लोर का कॉरिडोर पूरी तरह से ब्लॉक हो गया है। इससे पहले नगर निगम के काउंसलर रूम की फॉल सीलिंग भी पूरी तरह गिर चुकी है। तब एक मुलाजिम को चोट भी पहुंची थी।  नगर निगम के प्रशासकीय कंपलेक्स की हालत बिगड़ी हुई है।

बता दें कि इससे पहले नगर निगम के प्रशासकीय कांप्लेक्स मेक काउंसलर हाल की फाल्स सीलिंग गिर गई थी। हालांकि जिस समय फाल्स सीलिंग गिरी थी उस समय वहां पर कोई भी पार्षद नहीं था लेकिन एक मुलाजिम पर यह मलबा गिरा है। यह मुलाजिम हाल में सेवादार के रूप में तैनात है। यह मुलाजिम बोलने और सुनने में असमर्थ है। हाल की लगभग 80 प्रतिशत फाल्स सीलिंग गिर गई थी और पूरे हाल में मलबा फैला हुआ था। प्रशासकीय कांप्लेक्स की मेंटेनेंस को लेकर पहले भी सवाल खड़े होते रहे हैं।

इसी हाल के साथ बने बिल्डिंग ब्रांच के स्टाफ रूम की फॉर सीलिंग में आग लग गई थी। तभी मुलाजिम बाल-बाल बच गए थे। पहली मंजिल पर ज्वाइंट कमिश्नर के कमरे के बाहर भी फाल्स सिलिंग काफी खराब हालत में है और और इसके गिरने की भी आशंका बनी हुई है। इसे लेकर नगर निगम के मुलाजिमों में भी दहशत है कि फाल्स सीलिंग कब गिर जाए इसका कुछ पता नहीं।

यह भी पढ़ें- Punjab Coriander Price Hike : हरे धनिया के दाम आसमान पर, दुकानदार बोला- 150 रुपये किलो है, चाहिए तो बोलो

यह भी पढ़ें- नहर में प्रवाहित किए नारियल का स्वाद चख रहे हैं लोग, अमृतसर की अपरबारी दोआब नहर से नारियल निकाल व्यक्ति करते हैं कमाई

 

Edited By: Vinay Kumar