धर्मवीर सिंह मल्हार, तरनतारन। टिफन बम और हथगोले के साथ तीन आतंकियों की गरिफ्तारी के बाद शुक्रवार सुबह साढे तीन बजे धर्मा पोस्ट के पास पाक ड्रोन देखा गया। इसके चलते बीएसएफ ने गोलियां चलाईं तो वह वापस लौट गया। खेमकरण सेक्टर में तैनात बीएसएफ की बटालियन के जवानों ने सुबह साढे तीन बजे धर्मा पोस्ट के पास पाक से आते ड्रोन को देखा। यह ड्रोन कंटीली तार से ढाई सौ फीट की ऊंचाई पर था। बीएसएफ के जवानों ने फायर किए, जिसके बाद ड्रोन वापस लौट गया। गौर हो कि तरनतारन पुलिस ने हाल ही में दो टिफिन बम, दो हथगोलों और तीन पिस्टल के साथ मोगा से संबंधित तीन आतंकियों को काबू किया है। उनसे अभी पूछताश की जा रही है।

पाकिस्तान कर रहा पंजाब को अस्थिर करने का प्रयास

बता दें कि पड़ोसी देश पाकिस्तान लगातार पंजाब को अस्थिर करने का प्रयास कर रहा है। इसीलिए साजिश के तहत वह लगातार सीमा पार से हथियारों और हेरोइन की खेप ड्रोन के जरिये प्रदेश में पहुंचाने की फिराक में रहता है। पिछले कुछ महीने से पंजाब पुलिस कई आतंकियों को गिरफ्तार करके उनके पास से हथियार और गोला बारूद बरामद किया है। यहां तक कि आरडीएक्स भी पकड़ा जा चुका है। एक दिन पहले ही पुलिस ने खालिस्तान टाइगर फोर्स के तीन आतंकवादियों को दबोचने में सफलता प्राप्त की है। 

कुछ दिन पहले ही अमृतसर के अजनाला में पेट्रोल को टिफिन बम लगाकर उड़ाने का मामला उजागर हुआ था। मामले में चार आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है। यहां टिफिन बम जालंधर से गिरफ्तार आतंकी गुरमुख सिंह ने सप्लाई किया था। गुरमुख सिंह का ताया लखबीर सिंह रोडे प्रतिबंधित इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन का प्रमुख है और इस समय पाकिस्तान में छिपकर बैठा है। उसने अजनाला में पेट्रोल टैंकर को विस्फोट करके उड़ाने के बदले आतंकियों को 2 लाख रुपये देने की पेशकश की थी। जलालाबाद में मोटरसाइकिल में हुए धमाके के तार भी इसी साजिश से जुड़े पाए गए हैं।  

Edited By: Pankaj Dwivedi