जागरण संवाददाता, जालंधर। शहर में डेंगू का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है। धूप निकलने से तापमान में हलका उछाल आने पर डेंगू को बल मिल रहा है। वहीं दूसरी तरफ कोरोना वायरस कमजोर पड़ने लगा है। इसके साथ ही वीरवार को सरकारी सेंटरों में वैक्सीन की डोज लगेगी।

दो दर्जन के करीब इलाकों में मंडरा रहा डेंगू का खतरा

सेहत विभाग को जिले में 1569 घरों में लारवा मिल चुका है। जिले में डेंगू के 108 नए मामले सामने आ चुके हैं। जालंधर छावनी, रामामंडी, मकसूदां, भार्गव कैंप सहित दो दर्जन के करीब इलाकों में डेंगू का खतरा मंडरा रहा है। डेंगू के मामले सामने आने पर लोगों में भी दहशत का माहौल है।

जिले में डेंगू के मरीजों का कुल आंकड़ा 108 तक पहुंचा

सिविल सर्जन डा. रमन शर्मा का कहना है कि विभाग की तरफ से डेंगू मरीजों के घरों व आसपास के इलाके में टीमें सर्वे कर रही है। साथ ही कीटनाशक दवा का छिड़काव किया जा रहा है। जिले में डेंगू के मरीजों का कुल आंकड़ा 108 तक पहुंच गया है। सेहत विभाग की टीमें 41337 घरों में दस्तक देकर सर्वे कर चुकी है।

बुधवार को कोरोना वायरस के दो नए मामले आए सामने

बता दें कि, कोरोना के पिछले तीन दिन से नए मरीजों की संख्या शून्य होने के बाद बुधवार को दो नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही सरकारी व गैर सरकारी अस्पतालों में कोरोना का इलाज करवाने वाला कोई भी मरीज दाखिल नहीं है, जिससे सेहत विभाग ने थोड़ी राहत की सांस ली है।

त्योहारों के चलते कम हुई वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या

जिले में वैक्सीन की डोज का आंकड़ा 40,40,763 तक पहुंच गया है। इनमें 19,53,320 पहली, 18,83,047 दूसरी और 2,04,396 बूस्टर डोज वाले शामिल हैं। जिला टीकाकरण अधिकारी डा. राकेश चोपड़ा का कहना है कि त्योहारों के चलते लोग वैक्सीन की डोज लगवाने के लिए कम पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः- Jalandhar Weather Update: शहर में सुबह से ही खिलेगी धूप, जानिए दिनभर कैसा रहेगा मौसम का हाल

यह भी पढ़ेंः- जालंधर की PPR मार्केट में हंगामा, नाके पर खड़े पुलिसकर्मी पर युवक ने चढ़ाई कार; वर्दी पर भी डाला हाथ

Edited By: Deepika

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट