जागरण संवाददाता, अमृतसर। सचखंड श्री हरमंदिर साहिब में पंजाब के नवनियुक्त मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी व पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू नतमस्तक होने पहुंचे। वहीं उनके साथ डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा व ओपी सोनी भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी व नवजोत सिंह सिद्धू ने नतमस्तक होने के दौरान पालकी साहिब पर फूलों की वर्षा भी की।

नतमस्तक होने के बाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि राज धर्म के अनुसार चलेगा। धर्म में रहकर ही राज चलाया जाएगा। हर धर्म का पंजाब में सत्कार होगा। हर वर्ग को पंजाब में सम्मान दिया जाएगा। आपसी प्यार और मेल मिलाप पंजाब में बढ़ाया जाएगा और आपसी सद्भाव बरकरार रखा जाएगा। गुरु साहिब की बेअदबी पर पंथ जैसा इंसाफ चाहता है, उसे दिलाया जाएगा।

वहीं पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि गुरु की कृपा है जो राजनीति मुद्दों से भटकी थी हमारे सीएम उसे वापस लेकर आए हैं। मैंने पिछले 2 दिनों में निमाने और मत ऊंची वाले सीएम के साथ महसूस किया है कि मैंने पिछले 17 सालों में ऐसा कभी महसूस नहीं किया। महसूस ही अब हुआ है कि कांग्रेस लोगों की निर्भय होकर बिना किसी से बंधे सेवा कर सकती है।

लोक मामलों का अगर हम हल नहीं कर सकते तो हम सच्चे सिख नहीं हैं। सरकार में मेरिट का सम्मान होगा और धर्म की जय कार होगी। सच जीतेगा और हक और सच की लड़ाई हर कांग्रेसी लड़ेगा। लोगों में ही परमात्मा बसता है लोगों की सेवा हमारा फर्ज है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने जलियांवाला बाग में शहीदों को भी श्रद्धांजलि दी। उन्होंने विस्टर बुक में लिखा कि मैं उन सभी शहीदों को नमन करता हूं जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपनी कुर्बानी दी।

जलियांवाला बाग के बाद मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी व दोनों उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा व ओपी सोनी व नवजोत सिंह सिद्धू श्री दुर्गायाना मंदिर में नतमस्तक हुए। वहां पहुंचने पर विधायक सुनील कुमार दत्ती और उनकी टीम में स्वागत किया।

Edited By: Vinay Kumar