जासं, अमृतसर। पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री और अकाली नेता अनिल जोशी ने मंगलवार को कांग्रेस विधायकों पर बड़ा आरोप लगाया। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस विधायक सरकारी आटा दाल स्कीम के तहत लोगों को दिए जाने वाले सरकारी गेहूं में डिपो होल्डरों की आड़ में गोलमाल कर रहे हैं। सब कुछ कांग्रेस विधायकों की शह पर किया जा रहा है। मिलीभगत से गरीबों के हिस्से का राशन हड़पा जा रहा है। वे इसकी शिकायत मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से करेंगे। 

हल्का उत्तरी के वार्ड नंबर 4, 6, 7, 8 में एक डिपो होल्डर तो करीब 15 डिपो होल्डरों की सप्लाई खुद चला रहा है और लोगों का सरकारी राशन खा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि जिन लोगों के परिवार में 5 सदस्य हैं, उनके दो सदस्यों का ही अनाज दिया जा रहा है। यह मामला उजागर करने के बाद डिपो होल्डर उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि उन्होंने गरीब लोगों की आवाज उठाई है और लोगों के सरकारी राशन पर किसी को भी डाका मारने नहीं दिया जाएगा। जोशी ने कहा कि अकाली दल का एक-एक वर्कर इसके खिलाफ लड़ाई लड़ेगा और अब जहां-जहां डिपो होल्डर लोगों को सरकारी राशन बाटेंगे, वहां उनका एक वर्कर खड़ा होगा। अगर किसी भी डिपो होल्डर ने लोगों को कम राशन देने की कोशिश की तो उनके खिलाफ कार्रवाई करवाई जाएगी।

फूड सप्लाई विभाग की कार्यप्रणाली पर भी लगाए सवालिया निशान

अकाली नेता अनिल जोशी ने फूड सप्लाई विभाग की कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान लगाए। उन्होंने कहा कि इसमें फूड सप्लाई विभाग की खामियां भी खुलकर सामने आ रही हैं। आए दिन कोई न कोई घोटाला उजागर होता रहता है। उन्होंने कहा कि लोगों को कम राशन देने की शिकायतें मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, फूड सप्लाई विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी और सेक्रेटरी के अलावा पंजाब विजिलेंस ब्यूरो को भी करेंगे और इनके खिलाफ जांच करवाएंगे।

यह भी पढ़ें - Dengue Test Fees: पंजाब सरकार का बड़ा कदम, अब निजी अस्पतालों में 600 रुपये में होंगे डेंगू टेस्ट

Edited By: Pankaj Dwivedi