फरीदकोट, [प्रदीप कुमार सिंह]। पंजाब में स्‍कूल परीक्षाओं का परिणाम जल्‍द ही जारी किया जाएगा। इस बार पांचवीं, आठवीं व दसवीं कक्षा की  न मेरिट लिस्ट जारी होगी और न ही अंकों में नंबर पता चल पाएंगे। सीबीएसई पद्धति पर पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड भी ग्रेड में परिणाम घोषित करने की तैयारी में है। इसकी सिफारिश शिक्षा विभाग की चार सदस्यीय कमेटी ने की है।

शिक्षा विभाग की चार सदस्यीय कमेटी ने सौंपी रिपोर्ट, मेरिट लिस्ट नहीं बनेगी

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 15 मई को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक कर परीक्षा परिणाम को लेकर चर्चा की थी। इसके बाद चार सदस्यीय कमेटी बनाई गई। कमेटी में पंजाब एससीईआरटी डायरेक्टर, रिटायर्ड जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी (अमृतसर) सलविंदर सिंह, रिटायर्ड हेड मास्टर (संगरूर) कुलदीप सिंह व डीएवी पब्लिक स्कूल समाना (पटियाला) के प्रिंसिपल डॉ. मोहन लाल शर्मा शामिल थे। कमेटी ने पांचवीं, आठवीं व दसवीं के परिणाम घोषणा के संबंध में अपनी सिफारिश सौंप दी है।

आठवीं व दसवीं के सर्टिफिकेट पर दर्ज होगा कोविड-19 पास होने का कारण

कमेटी ने कहा है कि कोरोना के कारण लागू कर्फ्यू व लॉकडाउन के कारण मार्च में पांचवीं कक्षा के पांच में से तीन पेपर ही हो पाए थे। परीक्षा परिणाम विद्याॢथयों द्वारा विषयवार प्राप्त सीसीई (संकलित मूल्यांकन) के अंक को अनुपातक रूप में बढ़ाते हुए घोषित किया जाए। सात ही अंक न देकर ग्रेड दिया जाए और मेरिट सूची न बनाई जाए।

कमेटी ने कहा है कि आठवीं कक्षा के भी सभी पेपर नहीं हो पाए थे। रजिस्टर्ड विद्याॢथयों द्वारा विषयवार प्राप्त सीसीई के अंक को अनुपातक रूप में बढ़ाते हुए नतीजा घोषित किया जाए। दसवीं में सिर्फ पंजाबी-ए विषय की ही परीक्षा हुई थी। मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार परिणाम प्री बोर्ड परीक्षाओं के आधार पर घोषित किया जाए।

कमेटी ने कहा है कि शिक्षा बोर्ड के साथ एफिलेटेड, एसोसिएट स्कूलों की ओर से ली जाने वाली प्री बोर्ड परीक्षाओं का रिकॉर्ड बोर्ड के पास उपलब्ध नहीं होता है। बोर्ड के पास कुल रजिस्टर्ड विद्यार्थियों के सीसीई के अंक होते हैं, इसलिए परिणाम सीसीई में प्राप्त अंक के आधार पर घोषित किया जाए और मेरिट सूची न बनाई जाए।

कमेटी ने यह भी कहा है कि आठवीं व दसवीं के सर्टिफिकेट में यह दर्ज किया जाए कि कोविड-19 महामारी के कारण विषयवार ग्रेड सीसीई में प्राप्त अंक के आधार पर लगाए गए हैं। रीअपीयर विद्यार्थियों के लिए उनके सीसीई को आधार मानकर परिणाम घोषित किया जाए। ओपन स्कूल प्रणाली अधीन अपीयर होने वाले विद्याॢथयों को अलग से एक और मौका देने पर विचार किया जाए।

ग्रेडिंग  इस अनुसार होगी

अंक    -    ग्रेड

91 से 100 -  ए +

81 से 90  -  ए

71 से 80  -  बी1

61 से 70  -  बी

51 से 60  -  सी +

41 से 50  -  सी

1  से 40  -  डी

यह भी पढ़ें: कामगारों की छटपटाहट: भ्राजी, तुस्सी घर लौट आओ...बाबूजी हमहू चाहित है, कौनो व्‍यवस्‍था करावा



यह भी पढ़ें: हरियाणा के युवाओं की दास्‍तां: जमीन बेची और लाखों का कर्ज लिया, बेटा बर्बादी लेकर लाैटा

 

यह भी पढ़ें: मुश्किल में फंसी जान को बचाएगा सप्लीमेंट ऑक्सीजन थेरेपी सिस्टम, कोरोना संकट में संजीवनी

 

यह भी पढ़ें: ... और थम गई गाेल मशीन, खेल ही नहीं जिंदगी के चैंपियन थे बलबीर, स्‍वर्णिम युग का अंत


यह भी पढ़ें: चिंता न करें जल्‍द मिलेगी कोरोना से मुक्ति, जानें उत्तर भारत में कब तक खत्‍म होगा यह virus

 

यह भी पढ़ें: वंडर गर्ल है म्‍हारी जाह्नवी, दुनिया भर के युवाओं की आइकॉन बनी हरियाणा की 16 की लड़की 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!