संवाद सहयोगी, फरीदकोट

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सहयोग से संचालित नेचुरल केयर चाइल्ड लाइन की टीम ने गांव वीरेवाला खुर्द फरीदकोट में मनरेगा में काम कर रहे वर्कर को ट्रेनिग दी। चाइल्ड लाइन टीम के सेंटर कोआर्डिनेटर सोनिया रानी की तरफ़ से मौजूद लोगो को सब से पहले उनको बाल विवाह रोकू एक्ट 2006 पर ट्रेनिग दी गई। इस ट्रेनिग में आए हुए लोगो को चाइल्ड लाइन के टोल फ्री 1098 के बारे में जानकारी दी गई और समझाया गया कि चाइल्ड लाइन 18 वर्ष तक के लावारिस गुमशुदा ,बेसहारा बच्चों के लिए बनाया गया एक इमरजेंसी टोलफ्री हेल्पलाइन नंबर है । इस पर आप फोन करके किसी भी बच्चे के लिए निशुल्क मदद ले सकते है। इसमें जानकारी देने वाले का नाम पर नंबर गुप्त रखा जाता है। इस दौरान लोगों को ग्रीन दीपावली मनाने के बारे में कहा और पटाखे से होने वाले प्रदूषण की हानिया के बारे में बताया। चाईल्ड लाइन में जो केस आते हैं उनके बारे में भी जानकारी दी गई। महिलाओं और लड़कियों को पापड़ बनाने की ट्रेनिग दी गई ता जो ट्रैनिग ले कर वो अपना काम खुद कर सके।

Edited By: Jagran