Move to Jagran APP

टोल फ्री नंबर 1098 के बारे में बताया

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सहयोग से संचालित नेचुरल केयर चाइल्ड लाइन की टीम ने कार्यक्रम करवाया।

By JagranEdited By: Published: Fri, 25 Feb 2022 05:19 PM (IST)Updated: Fri, 25 Feb 2022 05:19 PM (IST)
टोल फ्री नंबर 1098 के बारे में बताया

संवाद सहयोगी, फरीदकोट

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सहयोग से संचालित नेचुरल केयर चाइल्ड लाइन की टीम ने सरकारी प्राइमरी स्कूल गोबिद नगर फरीदकोट में खुला मंच प्रोग्राम का आयोजन किया। इसमें मुख्य मेहमान के तौर पर वहां के सरपंच नछतर सिंह और सदस्य जगमीत सिंह जी को बुलाया गया। डीसीपीयू टीम से काउंसलर मालती जैन और आउटरीच वर्कर नेहा भी इस प्रोग्राम में शामिल हुए।

स्कूल के बच्चों और उनके को चाइल्ड लाइन टीम और डीसीपीयू टीम की तरफ से चाइल्ड लाइन के टोल फ्री 1098 नंबर के बारे में जानकारी दी गई। समझाया गया कि चाइल्ड लाइन 18 वर्ष तक के लावारिस गुमशुदा , बेसहारा बच्चों के लिए बनाया गया एक इमरजेंसी टोलफ्री हेल्पलाइन नंबर है । इस पर आप फोन करके किसी भी बच्चे के लिए निशुल्क मदद ले सकते हैं। बच्चो को पढाई प्रति प्रेरित किया गया। बच्चो को कोविड-19 के बारे में जानकारी दी गई और उसके बचाव और लक्षण बताए गए। सभी को कोविड-19 के दौरान मास्क का इस्तेमाल करने को कहा गया।

बच्चों को हाथ धोने के स्टेप बताकर उनसे हैंड वाश एक्टिविटी करवाई गई। बच्चों को मोबाइल से आनलाइन होने वाले खतरों के बारे में जागरूक किया गया। टीम की तरफ बच्चों को रिफ्रेशमेंट बांटी गई।

डीसीपीयू टीम की तरफ से काउंसलर मालती जैन ऑस्टरिच वर्कर नेहा स्कूल अधियापक नीतू बजाज और आंगनबाड़ी वर्कर सरोज बाला मीनाक्षी कुमारी और चाइल्ड लाइन की टीम कोआर्डिनेटर सोनिया रानी ,पलविदर कौर, विकेश कुमार , काउंसलर ज्योति बाला और सुभाष चंद्र उपस्थित थे।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.