चंडीगढ़, जेएनएन। पीजीआइ चंडीगढ़ (PGI Chandigarh) में भर्ती  91 साल के उड़न सिख पद्मश्री मिल्खा सिंह की हालत अभी स्थिर बताई जा रही है।  पीजीआइ के डॉक्टरों की मानें तो उनके स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। पीजीआइ डायरेक्टर प्रो. जगतराम ने एक वीडियो जारी कर बताया कि मिल्खा सिंह की सेहत में काफी सुधार है। उन्होंने बताया कि तीन डॉक्टरों की टीम उनके स्वास्थ्य पर पूरी नजर बनाए हुए है और मिल्खा सिह की स्थिति काफी स्थिर है। मिल्खा सिंह का ऑक्सीजन लेवल भी अब स्थिर है, हालांकि अभी मिल्खा सिंह आइसीयू वार्ड में दाखिल हैं।

बता दें कि कोरोना रिपोर्ट नेगटिव आने के बाद मिल्खा सिंह को 31 मई मोहाली के फोर्टिस अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी। इसके बाद वह सेक्टर -8 स्थित अपने घर में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आराम कर रहे थे। तीन जून को अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और ऑक्सीजन लेवल गिरने के बाद उन्हें पीजीआइ के कोविड  अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां तीन सीनियर डॉक्टरों की  टीम उनके स्वास्थ्य पर नजर बनाए हुए है। पीजीआइ प्रवक्ता अशोक कुमार ने बताया कि मिल्खा सिंह का ऑक्सीजन लेवल पहले से ठीक है। वह तेजी से रिकवर कर रहे हैं। कमजोरी से रिकवरी में समय लग सकता है। बता दें 17 मई को मिल्खा सिंह की कोरोना रिपोर्ट पॉजटिव आई थी।

पत्नी निर्मल कौर भी आइसीयू में भर्ती

पूर्व वॉलीवाल खिलाड़ी व पद्मश्री मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल कौर की हालत अभी भी स्थिर बनी हुई है। वह मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती  हैं। छह  दिन पहले उनकी तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें नार्मल वार्ड से आईसीयू में शिफ्ट किया गया था। डॉक्टरों की तमाम कोशिशों  के बावजूद उनकी मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत लगातार बढ़ती जा रही थी। डॉक्टरों की माने तो सीनियर डॉक्टरों की टीम उनकी सेहत पर लगातार नजर बनाए हुए हैं।

पूरे परिवार को हुआ था कोरोना टेस्ट

मिल्खा सिंह के पॉजिटिव होने के बाद उनके पूरे परिवार का भी कोविड टेस्ट करवाया गया था। जिसमें उनके दो घरेलू सहायक भी संक्रमित पाए गए थे, जबकि उनकी पत्नी निर्मल कौर , बहू कुदरत और पोते हरजय मिल्खा सिंह की रिपोर्ट निगेटिव आई थी, लेकिन ठीक हफ्ते बाद निर्मल कौर की तबीयत बिगड़ने लगी और जब उन्होंने अपना कोरोना टेस्ट दोबारा करवाया, तो वह कोरोना पॉजिटिव निकली।