जेएनएन, चंडीगढ़। नाभा जेल से भागे आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू ने कई और सनसनीखेज खुलासेे किए हैं। खालिस्तान लिब्रेेशन फोर्स के चीफ मिंटू ने पूरी साजिश पाकिस्तान से रचे जाने की बात स्वीकार की है। उसने बताया है कि पाकिस्तानी खुफिया एंजेंसी आइएसअाइ ने साारी साजिश रची। पाकिस्तान कई देशों में खालिस्तानी आतंकवाद का माड्यू्ल तैयार कर यहां हिंंसा का दौर फिर जिंदा करने के लिए सक्रिय है। मिंटू ने जेेल ब्रेेक से पहले इंटरनेट कॉलिंग से पाकिस्तान बाात की थी।

सूत्रों के अनुसार, दिल्ली में पकड़ेे गए केएलएफ मुखिया ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह पाकिस्तान में रह रहे खालिस्तानी आतंकी हरमीत के माध्यम से आइएसअााइ ने जेल ब्रेेक की पूरी साजिश रची। हरमीत इस मामले का मास्टरमाइंड था। उसने बताया हैै कि हरमीत पाकिस्तान मेंं बेहद सुरक्षित ठिकाने पर है और उसके माध्यम से आइएसआइ खालिस्तानी आतंकियोंं को जोड़़ने में लगी है। हरमीत लाहौर के डेरा चल्ला गांव में एक बेहद सुरक्षित घर में रह रहा है।

पढ़ें : नाभा जेल ब्रेक : सहायक सुपरिंटेंडेंट व जेल वार्डन थे शामिल, तीन गिरफ्तार

उसने बताया कि उसका कई देशों में ठिकाना रहा है। वह कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और थाइलैंड में रहा है। उसके अब भी इन जगहाें पर संपर्क सूत्र और आतंकी माड्यूल मौजूद है। उसने बताया कि पाकिस्तान इन ठिकानों के माध्यम से सिख आतंकवाद को फिर से जिंदा करना चाहता था।

पढ़ेंं : पंजाब जेल ब्रेक : KLF सरगना मिंटू के बाद एक और फरार आतंकी गिरफ्तार

सूत्रों के अनुसार, हरमिंदर सिंह ने बताया कि केएलएफ के जर्मनी में मौजूूद समर्थकों और इंग्लैंड में रह रहे संदीप नामक व्यक्ति ने उसे (हरमिंदर को) हवाला के जरिये धन भेजे थे। हरमिंदर ने यह भी स्वीकार किया हैै कि वह जेल ब्रेक मामलेे का मास्टरमाइंड था।

पढ़ें : नाभा जेल पहुंची दिल्ली पुलिस की टीम, आंतकी मिंटू का रिकॉर्ड खंगाला

इससे पहले भी मिंटू ने कई खुलासे पूछताछ में किए थे। उसकी पूरी पूछताछ में जेल ब्रेेक कांड का सीधा कनेक्शन पाकिस्तान से जुड़़ रहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!