चंडीगढ़, जागरण संवाददाता: वायु सेना दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित होने जा रहे एयर शो की एंट्री टिकट बु¨कग सोमवार शाम से शुरू हो गई है। छह और आठ अक्टूबर को एयर शो होना है। इसलिए दोनों दिनों की टिकट भी अलग-अलग होगी। एक मोबाइल से एक दिन के लिए ही दो लोगों के लिए टिकट बुकिंग हो सकती है। यानी जो लोग छह को इवेंट देख चुके होंगे वह उसी टिकट पर दोबारा आठ को देखने नहीं जा सकते।

एडवाइजर धर्म पाल ने सोमवार को यूटी सेक्रेटेरिएट में एयर शो टिकट बु¨कग एप लांच किया। एडवाइजर ने बताया कि सुखना लेक पर 35 हजार लोगों की क्षमता है जो एक दिन में एयर शो देख पाएंगे। ज्यादा से ज्यादा लोग एयर शो देख सकें इसलिए एक व्यक्ति को एक ही बार एंट्री दी जा रही है।

सुखना लेक को आठ जोन में बांटा

एक वीवीआइपी और सात जोन पब्लिक के लिए एयर शो के दौरान किसी तरह की अव्यवस्था न हो इसके लिए प्रशासन ने टेक्नोलाजी का इस्तेमाल करते हुए सिस्टम बनाया है। सुखना लेक के आस-पास कहीं भी निजी वाहनों को मंजूरी नहीं दी जाएगी। कोई भी व्यक्ति पैदल या फिर निजी वाहन से एयर शो में नहीं जा सकता।

प्रशासन ने शहर में अलग-अलग जगहों पर 11 अलाइटिंग/पार्किंग प्वाइंट बनाए हैं। जहां शहरवासी पहुंचेंगे यहां से शटल बस के जरिए वह सुखना लेक पर पहुंचेंगे। एयर शो की एंट्री फ्री है। लेकिन शटल बस सर्विस के लिए प्रति व्यक्ति 20 रुपये लगेंगे।

सुखना लेक को आठ जोन में बांटा गया है। इसमें जोन-1 वीवीआइपी गेस्ट और वेटर्नस के लिए होगा। बाकी सात जोन आम पब्लिक के लिए होंगे। अलाइ¨टग प्वाइंट के साथ जोन जोड़े गए हैं। सुखना लेक की पिछली साइड गोल्फ रेंज की तरफ से सीढि़यों को नंबर देकर जोन से जोड़ा गया है। यहां बस ड्राप करेगी शो के बाद यहीं से वापसी भी होगी।

एक दिन में 35 हजार लोग बनेंगे दर्शक

सुखना लेक पर एयर शो के दौरान एक दिन में 35 हजार लोगों के शामिल होने की क्षमता रहेगी। इसमें दो हजार वीवीआइपी रहेंगे। 33 हजार आम पब्लिक के लिए सीट रहेंगी। दो दिनों में 70 हजार लोग एयर शो देख पाएंगे। ज्यादा से ज्यादा लोग देख सकें इसलिए ही एक टिकट एक दिन के लिए होगी। दूसरे दिन वह नहीं चलेगी।

सुखना लेक को आठ जोन में बांटा गया है। जोन-1 वीआइपी के लिए होगा। इसमें दो हजार सीट रहेंगी। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु मुख्यातिथि होंगी तो सेनाओं के अध्यक्ष सहित राज्यपाल, मुख्यमंत्री और अधिकारी इसी जोन में रहेंगे। एक हजार सेना के सेवानिवृत अधिकारियों के लिए सीट रिजर्व रखी गई हैं। मोबाइल में टिकट के क्यूआर कोड को स्कैन करने के बाद ही शटल बस में मिलेगी एंट्री एयर शो देखने जाते समय फोटो आइडी अवश्य साथ ले जाएं।

प्रत्येक व्यक्ति को फोटो आईडी कार्ड दिखाना होगा। यह आईडी टिकट बु¨कग में दिए गए नाम से मेल होनी चाहिए। पार्किंग प्वाइंट पर पहुंचने के बाद मौजूद स्टाफ बु¨कग क्यूआर कोड स्कैन करने के बाद बस में चढ़ने देंगे। एक बार कोड स्कैन होते ही यह अवैध हो जाएगा। इसके बाद अगर आप बस से उतरकर दोबारा चढ़ेंगे तो यह स्कैन नहीं होगा। इसलिए बात का ध्यान रखें। बैठने के बाद उतरकर इधर-उधर न जाएं। इसके बाद कहीं टिकट दिखाने की जरूरत नहीं होगी। केवल मेटल डिटेक्टर और तलाशी होगी।

खाने का कोई सामान न ले जाएं एयर शो के दौरान कोई भी खाने पीने का सामान साथ नहीं ले जा सकते। पानी की ट्रांसपेरेंट बोतल ही साथ ले सकते हैं। खाली हाथ जाएंगे तो बेहतर होगा। लेक पर पीने के पानी और शौचालय की उचित व्यवस्था रहेगी। सिटको पानी की बोतल मौके पर सेल भी करेगी।

बिना टिकट आज देखिए पूरा शो

अगर टिकट बु¨कग के झंझट और बस में नहीं जाना चाहते तो मंगलवार को आप शाम तीन से साढ़े पांच बजे तक देख सकते हैं। छह और आठ को होने वाले एयर शो से पहले मंगलवार को फाइनल रिहर्सल हो रही है। इस दौरान कोई भी व्यक्ति देखने जा सकता है। बदलाव केवल इतना होगा कि राष्ट्रपति और अन्य वीवीआइपी नहीं होंगे। लेकिन शो वैसा ही होगा।

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट