डा. सुमित सिंह श्योराण l चंडीगढ़ ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर कैरोलाइन रावेट बुधवार को दैनिक जागरण चंडीगढ़ कार्यालय पहुंचीं। फरवरी 2021 में कैरोलाइन ने चंडीगढ़ ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर का कार्यभार संभाला था। रावेट ने कहा कि 2030 रोड मैप पर भारत और ब्रिटेन मिलकर काम करेंगे।

इस बीच उन्होंने ब्रिटेन में भारतीय मूल के नए प्रधानमंत्री ऋषि सुनक के कार्यभार संभालने से भविष्य में भारत के साथ कूटनीतिक रिश्तों, शिक्षा, व्यापार और स्वास्थ्य हेल्थ विभिन्न मुद्दों को लेकर विस्तार से चर्चा की। कहा कि ब्रिटेन कभी भी अपराधियों को पनाह देने के पक्ष में नहीं है। उम्मीद जताई कि आगामी वर्षों में ब्रिटेन और भारत के रिश्तों को नई मजबूती मिलेगी। 2021-22 में ब्रिटेन ने भारतीयों को रिकार्ड स्तर पर वीजा दिया है। कोविड के बाद से ब्रिटेन में नौकरी के अवसर कम हुए हैं, लेकिन भविष्य में रोजगार के नए अवसरों को लेकर वह काफी आशावादी हैं।

रावेट ने कहा कि ब्रिटेन में ऋषि सुनक का सबसे युवा प्रधानमंत्री के तौर पर पदभार ग्रहण करना एक ऐतिहासिक पल है। यह अखंड़ता का प्रतीक है। पीएम सुनक ने घोषणा की है कि दोनों देशों के बीच 2030 तक व्यापार को दोगुना करने का लक्ष्य है। इसे लेकर लगातार दोनों पक्षों में समझौतों का दौर जारी है।

भारतीयों के लिए ब्रिटेन में वीजा पाबंदियों के सवाल पर रावेट ने कहा कि 2022 में ब्रिटेन ने एक लाख 18 हजार स्टूडेंट्स को वीजा दिया है। बीते वर्ष की तुलना में जारी वीजा की संख्या 89 फीसद अधिक रही है। जो दो लाख 58 हजार विजिटर वीजा जारी किया गया, उनमें से 28 फीसद भारतीयों के लिए जारी किया गया है। इसके अलावा 103,000 भारतीय स्किल्ड वर्कर को भी ब्रिटेन ने जून 2022 तक वीजा जारी किया है।

रावेट ने बताया कि ब्रिटेन और भारत के बीच डेवलेपमेंट को लेकर रोडमैप 2030 पर मिलकर काम किया जाएगा। दोनों देशों के बीच पंजाब, हरियाणा, हिमाचल सहित देश के कई शहरों में संयुक्त प्रोजेक्ट पर काम चल रहा। इन प्रोजेक्ट्स से भविष्य में आर्थिक विकास के साथ ही बेहतर रोजगार के अवसर मिलेंगे।

चंडीगढ़ समेत पंजाब, हरियाणा और हिमाचल के साथ चल रहे प्रोजेक्ट

रावेट ने कहा कि पंजाब स्थित पटियाला में डीकार्बेनाइजेशन और हरियाणा सरकार के साथ मिलकर बायोमास असेसमेंट, रिनूएबल एनर्जी, ग्रीन हाइड्रोजन जैसे प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है। चंडीगढ़ में ट्रांसपोर्ट एंड सस्टेनेबिलिटी मोबिलिटी साल्यूशन पर काम चल रहा है। हिमाचल के शिमला में भी ब्रिटिश और राज्य सरकार के बीच प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है।

ब्रिटेन कभी भी अपराधियों को पनाह देने के पक्ष में नहीं

भारत की ओर से भगोड़ा घोषित हो चुके विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोगों को ब्रिटेन में पनाह मिलने के सवाल पर कैरोलाइन रावेट ने कहा कि ब्रिटेन कभी अपराधियों को पनाह देने के पक्ष में नहीं है। रावेट ने बताया कि बीते सात वर्षों में चार अपराधियों को ब्रिटिश सरकार ने भारत सरकार को सौंपा है। कहा कि भारत दौरे पर पूर्व प्रधानमंत्री जोनसन ने स्पष्ट किया था कि दूसरे देशों के लिए खतरा बने ग्रुप को ब्रिटेन में संरक्षण नहीं दिया जाएगा।

भाया पंजाबी कल्चर

रावेट ने कहा कि उनका फोकस है कि वह अपने चंडीगढ़ स्थित कार्यकाल में अधिक से अधिक लोगों के बीच जाकर संवाद प्रक्रिया को पहले से और बेहतर बनाएं। बताया कि पंजाबी कल्चर ने भी उन्हें काफी प्रभावित किया है। चंडीगढ़ से लंदन के लिए फ्लाइट के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह एक अच्छा कदम है। उन्होंने बताया कि कई एयरलाइंस ने लंदन के लिए सीधी फ्लाइट शुरू करने पर सहमति दी है। यह एक सकारात्मक पहल है।

Edited By: Ankesh Thakur

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट