बलवान करिवाल, चंडीगढ़। Chandigarh AQI: कई दिनों से ठंड काफी बढ़ गई है। तापमान में अच्छी खासी गिरावट देखी जा रही है। शीतलहर ने ठिठुरन बहुत ज्यादा बढ़ा दी है। कोहरे की वजह से हवा में नमी की मात्रा बढ़ने से प्रदूषण का स्तर भी बढ़ रहा है। चार दिनों की बरसात के बाद जहां हवा एकमद से साफ होकर एयर क्वालिटी इंडेक्स 50 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर तक आ गया था। वहीं अब हवा में नमी अधिक होने से एक्यूआई काफी बढ़ गया है।

बात ट्राईसिटी की करें तो पंचकूला शहर तीनों शहरों में सबसे अधिक प्रदूषित हो गया है। रविवार को पंचकूला का एक्यूआइ 253 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया। जो खराब माना जाता है। काफी दिनों बाद एक्यूआइ यहां 250 के पार पहुंचा है। वहीं चंडीगढ़ का एक्यूआई 164 दर्ज किया गया। जबकि मोहाली का एक्यूआई 175 दर्ज किया गया।

इस तरह से एक्यूआइ में लगातार इजाफा हो रहा है। पर्यावरण विशेषज्ञों का मानना है कि अभी प्रदूषण का स्तर और बढ़ेगा। रविवार को तो छुट्टी के दिन वाहनों की संख्या में बहुत कम रहती है। बावजूद इसके हवा इतनी खराब है। सोमवार को वाहनों की आवाजाही बहुत ज्यादा रहती है। इससे सोमवार को इसके और बढ़ने की संभावना है। वाहनों के धुएं और टायर से उड़ने वाली धूल भी प्रदूषण का मुख्य कारण बनती है। वहीं, पंजाब के शहरों की बात करें तो लुधियाना और जालंधर की हवा चंडीगढ़ के मुकाबले ज्यादा साफ है। हालांकि इन दोनों शहरों में इंडस्ट्री ज्यादा है।

प्रमुख शहरों का हाल

चंडीगढ़        164

पंचकूला        253

लुधियाना     122

जालंधर        137

अंबाला        114

कुरुक्षेत्र         154

नई दिल्ली    264

फरीदाबाद    280

गुरुग्राम        166

Edited By: Ankesh Thakur