चंडीगढ़, [इन्द्रप्रीत सिंह]। ब्रिटिश एक्टर लॉरेंस फॉक्स ने प्रथम विश्व युद्ध पर बनी हॉलीवुड फिल्‍म '1917' में ब्रिटिश सेना में सिखों की मौजूदगी दिखाए जाने पर आपत्तिजनक टिप्‍पणी कर दी थी और इसका विरोध किया था। इसके बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमङ्क्षरदर सिंह ने फॉक्स पर जोरदार हमला किया और उनकी आपत्ति को बकवास बताया। उन्होंने कहा कि फॉक्स को ऐसी टिप्पणियां करने से पहले सैनिक इतिहास के बारे में अपनी जानकारी पुख्ता करनी चाहिए। फॉक्स ने कैप्टन की तीखी प्रतिक्रिया के बाद सिखों से माफी मांगी है।

हॉलीवुड फिल्म '1917' में ब्रिटिश सेना में सिखों की मौजूदगी पर फॉक्स की टिप्पणी बकवास: अमरिंदर

बता दें कि फॉक्स ने बीते दिनों ऑस्कर अवार्ड के लिए भेजी गई फिल्म '1917Ó में ब्रिटिश सेना में सिख सिपाही का दृश्य दिखाने पर एतराज जताया था। इस पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि फॉक्स सिर्फ एक अदाकार हैं। उन्हें सैनिक इतिहास का कितना ज्ञान है, यह बड़ा सवाल है। भारतीय सैन्य दल वर्ष 1914 में यूरोप पहुंच गए थे। वहां एक बड़ी सैन्य आपदा को टालने में भारतीय सैनिकों की बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। उस दौरान भारत से दो सैन्य दल यूरोप भेजे गए थे। इनमें तीसरी लाहौर डिवीजन और सातवीं मेरठ डिवीजन शामिल थी।

थल सेना में रह चुके कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि उनकी रेजीमेंट जालंधर ब्रिगेड का हिस्सा थी जिसमें 129वीं बलूचीस और 47 सिख तथा 15 सिख रेजीमेंट शामिल थी। प्रथम विश्व युद्ध के दौरान उत्तर में भारतीय सैनिक जर्मनी तक के संपर्क में थे। भारतीय सैनिकों ने ब्रिटिश सेना के साथ मिलकर लड़ा और वाइप्रस लाइन तक सैनिक कार्रवाई में देरी पैदा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

यह कहा था फॉक्स ने -

'सेम मेंडिस की फिल्म में ब्रिटिश सेना में सिख सिपाही का फिल्मांकन सिर्फ दर्शकों पर विविधता थोंपने का प्रयास है। यह फिल्मांकन इस फिल्म के परिवेश से मेल नहीं खाता और संस्थागत तौर पर नस्लवादी प्रतीत होता है।'

यह भी पढ़ें: पंजाब को पाकिस्तान से नया खतरा, अब खेती को चौपट करने की रची साजिश

फॉक्स ने सिख समुदाय से ऐेसे मांगी माफी

तीखी प्रतिक्रियाओं के बाद फॉक्स ने भी अपनी टिप्पणी के लिए सिख समुदाय से माफी मांगी है। उन्होंने अपने संदेश में लिखा कि वे फिल्म के संबंध में की गई गलत टिप्पणी के लिए सिख समुदाय से माफी मांगते हैं। वह सिखों के रिश्तेदारों द्वारा दिए गए बलिदानों का प्रथम विश्व युद्ध में मारे गए सभी सिपाहियों के समान ही सम्मान करते हैं।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!