जागरण संवाददाता, अमृतसर : शिरोमणि अकाली दल (शिअद) बादल की सरकार में मंत्री रह चुके सुच्चा सिंह लंगाह ने श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार से दोबारा अपील की है कि उसे वापस पंथ में शामिल किया जाए। लंगाह ने श्री हरिमंदिर साहिब में माथा टेकने के बाद मीडिया से बातचीत के जरिए सिंह साहिब से गुहार लगाई है। उन्होंने कहा कि उनकी और उनके मां बाप की आयु को मुख्य रखकर उसकी गलती की माफी देते हुए उसे पंथ में दोबारा शामिल किया जाए। श्री अकाल तख्त साहिब की ओर से जो भी धार्मिक सजा उन्हें सुनाई जाएगी, वह हर हाल में उसे स्वीकार करेंगे।

लंगाह ने कहा कि वह पिछले 72 दिनों से रोज हरिमंदिर साहिब में माथा टेकने नंगे पांव आ रहे हैं। वहां पाठ सुनने, पाठ करने के बाद व श्री अकाल तख्त साहिब पर वाहेगुरु के आगे अपने अपराध की माफी मांगते हैं। लंगाह ने कहा कि अकाल तख्त साहिब के मौजूदा जत्थेदार बिना किसी राजनीतिक दबाव के काम करते हैं। उन्होंने पहले भी दो पर माफी के लिए अकाल तख्त साहिब पर प्रार्थना पत्र सौंपा है। उनके बुजुर्ग मां-बाप ने भी लिखित में अकाल तख्त पर मांफी देने संबंधी प्रार्थना पत्र भेजा है। महिला संग अश्लील वीडियो वायरल होने के बाद किया था निष्कासित

सुच्चा सिंह लंगाह की एक महिला के साथ अश्लील वीडियो वायरल हुई थी। इस कारण पांच सिंह साहिब ने श्री अकाल तख्त साहिब से हुकमनामा जारी करके लंगाह को पंथ से निष्कासित कर दिया था। लंगाह ने कई बार कोशिश की थी कि उसे पंथ में वापस शामिल कर लिया जाए। परंतु सफल नहीं हुए

Edited By: Jagran