अमृतसर [नवीन राजपूत/अमन देवगन]। सितंबर 2019 में Drone के जरिए हथियार भेजने के बाद अब कोहरे का फायदा उठाकर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने एक बार फिर Drone  के जरिए भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की है।

भारतीय सीमा में Drone भेजे जाने की ताजा घटना शुक्रवार मध्यरात्रि की है। भारत-पाकिस्तान सीमा के साथ लगते जिला अमृतसर के देहात क्षेत्र के गांव छन्ना घोगा के साथ लगती कंटीली तार पर Drone की आवाज सुनी गई। यह गांव पहले ही नशा तस्करी के लिए बदनाम है और इसी गांव से पुलिस ने विगत 19 दिसंबर को 15 किलो हेरोइन के साथ पांच तस्करों को गिरफ्तार भी किया था।

आशंका जताई गई है कि या तो Drone द्वारा हेरोइन सप्लाई दी जानी थी या हथियार गिराए जाने थे। खुफिया एजेंसियों द्वारा इस घटना की रिपोर्ट केंद्र और पंजाब सरकार को भेज दी गई है। हालाकि बार्डर जोन के आइजी सुरिंदरपाल परमार ने इस मामले में कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया।

शुक्रवार मध्यरात्रि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने Drone को भारतीय सीमा में प्रवेश करवाया। हल्के कोहरे में Drone की आवाज से भारत-पाक सीमा पर सन्नाटा टूट गया। अजनाला सेक्टर के गांव छन्ना घोगा और दुज्जोवाल में Drone की आवाज सुनने के बाद बीएसएफ अधिकारी तुरंत हरकत में आ गए। उन्होंने घटनास्थल से कुछ दूरी पर गश्त कर रहे जवानों को बुलाकर सर्च की। पहले यह आशंका जताई जा रही थी कि Drone  भारतीय क्षेत्र में गिर गया होगा लेकिन शनिवार दोपहर तक बीएसएफ द्वारा इन दोनों क्षेत्रों में की गई जांच में कोई Drone  नहीं मिला।

पुराने तस्करों का रिकार्ड खंगालने में जुटी पुलिस

सीमा पर Drone की सूचना के बाद अमृतसर देहाती पुलिस ने छन्ना घोगा और दुज्जोवाली गांव के पुराने तस्करों का खाका खंगालना शुरू कर दिया है। इस क्षेत्र में कितने तस्करों पर मामले दर्ज हैं, कितने जेल में बंद हैं, कितने जमानत पर हैं आदि की जानकारी जुटाई जा रही है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!