नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। देश की राजधानी दिल्ली में 4-15 नवंबर तक ऑड-इवेन स्कीम लागू रहने के दौरान दिल्ली सरकार ने नियम तोड़ने पर जुर्माना 5 गुना घटा दिया है। पूर्व में नियम तोड़ने पर 20,000 रुपये जुर्माना देना होता था अब सिर्फ 4000 रुपये देना होगा। दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया सीएम अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को पत्रकार वार्ता कर इस बाबत एलान किया। इस दौरान सीएम केजरीवाल ने कई और छूट के बारे में मीडिया को जानकारी दी।

इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली में बाहर के राज्यों में पराली जलने से प्रदूषण बढ़ रहा है। इसे ध्यान में रखकर सरकार ने ऑड-इवेन लागू करने का फैसला किया है। यह 4 नवंबर से 15 नवंबर तक लागू होगा। इवेन तारीख पर इवेन नंबर के वाहन और ऑड तारीख पर ऑड नंबर के वाहन लागू चलेंगे। दूसरे राज्यों से आने वाले वाहन भी इसमें शामिल होंगे। odd-even सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक सोमवार से शनिवार को लागू होगा।इस दौरान नियमों को उल्लंघन करने पर 4,000 रुपये का जुर्माना देना होगा। सबसे बड़ी बात तो यह है कि केंद्र सरकार मंत्रियों को तो odd-even में छूट प्रदान की गई है, लेकिन कई अहम पद इसके दायरे में नहीं हैं। इनमें दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल समेत मंत्री भी शामिल हैं।

  • इन्हें मिलेगी छूट

  • राष्ट्रपति
  • उपराष्ट्रपति
  • प्रधानमंत्री
  • राज्यपाल
  • सुप्रीम कोर्ट के जज
  • केंद्रीय सरकार के मंत्री
  • राज्यसभा और लोकसभा के अध्यक्ष
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री पर भी होगा लागू नियम

इनके अलावा, एनसीटी, दिल्ली हाई कोर्ट, इमरजेंसी, जेल, पुलिस, ट्रांसपोर्ट विभाग के वाहन, डिविजन कमिश्नर द्वारा ऑथराइज्ड. रक्षा मंत्री के वाहन, एसपीजी के वाहन, एम्बेसी वाहन, मेडिकल के आधार पर जाने वालों पर छूट लागू होगी।

वहीं, महिलाओं के साथ दिव्यांग और चुनाव आयोग के अधिकारियों को भी छूट मिलेगी। इसी के  साथ अन्य राज्यों के सीएम पर भी नियम लागू नहीं होगा।

यह भी जानें

  • सुबह 8 से शाम 8 बजे तक सोमवार से शनिवार तक लागू होगा
  • ऑड-ईवन स्कीम रविवार को लागू नहीं होगा
  • Odd-Even में दो पहिया को छूट मिलेगी
  • महिलाओं के अलावा, दिव्यांगों को भी छूट दी गई है
  • नियम तोड़ने पर 4000 रुपये जुर्माना होगा
  • 5 लाख सीएनजी वाहन रहेंगे छूट से बाहर
  • अन्य प्रदेशों के साथ एनसीआर की गाड़ियों पर नियम लागू होगा।

वहीं, पत्रकार वार्ता के दौरान AAP मुखिया अरविंद केजरीवाल ने यह भी बताया कि 1260 किमी रोड का सारे विधायकों ने मुआयना किया था। दिल्ली सरकार के अधीन सड़कों पर 232 गड्ढे मिले, जिन्हें कल तक ठीक कर दिया जाएगा। 283 पैच मिले, यहां सड़कें टूटी थी, जिन्हें 31 अक्टूबर तक ठीक करेंगे। 272 जगहों पर लंबे पेच मिले, जिन्हें जल्दी ठीक कर दिया जाएगा। कई जगहों पर जल बोर्ड, केंद्र सरकार के विभागों का काम हो रहा है, वहां के अधिकारियों को 24 अक्टूबर को बुलाया है, जल्द ही उन्हें भी ठीक किया जाएगा, दिल्ली सरकार के अधीन आने वाली सरकार को जल्द अच्छी होगी।

Pollution in India: दिल्ली समेत देशभर की गर्भवती महिलाओं को लेकर सामने आया चौंकाने वाला अध्ययन

मोटापे से जूझ रहे देश के करोड़ों लोगों के लिए खुशखबरी, अब दवाओं से भी कम होगा पेट

नोएडा-ग्रेटर नोएडा से दिल्ली एयर पोर्ट तक सफर होगा आसान, नोएडा मेट्रो बना रहा योजना

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप