मुंबई, एएनआइ। भाजपा नेता छत्रपति उदयनराजे भोसले ने मंगलवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए कहा कि शिवसेना को 'ठाकरे सेना' कहा जाना चाहिए क्योंकि यह महाराज के नाम का इस्तेमाल जरूरत के मुताबिक करती है। उदयनराजे भोसले ने कहा कि खुद को शिवसेना कहना बंद करो, महाराष्ट्र के लोग मूर्ख नहीं हैं।

'आज के शिवाजी, नरेंद्र मोदी'  नामक पुस्तक भाजपा नेता जय भगवान गोयल द्वारा लिखी गई है। शिवसेना के पार्टी कार्यालय में महाराष्ट्र के  सीएमप्रमुख उद्धव ठाकरे का एक पोस्टर दिखाते हुए, छत्रपति शिवाजी महाराज भोसले के वंशज ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, अगर शिवसेना महाराज का सम्मान करती है, तो उन्हें महाराज की मूर्ति के ऊपर ठाकरे का पोस्टर नहीं लगाना चाहिये। 

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में पीएम मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से करने के बाद से ही हंगामा मचा हुआ है। शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादकीय में भी पीएम मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से की जाने वाली पुस्तक की निंदा की गयी है। शिवसेना ने भाजपा नेताओं को छत्रपति शिवाजी पर लिखी गयी किताब पढऩे की सलाह दी है, साथ ही ये भी कहा है कि महाराष्ट्र की जनता को किताब के शीर्षक से नाराजगी है न की पीएम नरेन्द्र मोदी से। 

Maharashtra Politics: अगर मंत्री बंगले और विभाग के लिए लड़ते रहे तो CM उद्धव दे देंगे इस्तीफा

ज्ञात हो कि महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार ने भाजपा नेता जय भगवान गोयल द्वारा लिखित पुस्तक के शीर्षक में मोदी की शिवाजी से तुलना करने पर इसे अपमानजनक बताते हुए इसकी आलोचना की है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में साफ शब्दों में लिखा गया है कि गुस्से की जहर पीएम नरेन्द्र मोदी जी के खिलाफ नहीं है, मोदी जी देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री हैं और उनकी छवि एक निर्णायक नेता की है। लेकिन इसके बावजूद भी अगर कोई पूछे की क्या वो देश के राजा हैं तो जवाब नही ही होगा। 

Maharashtra: महाराष्ट्र की मंत्री यशोमति ठाकुर के बयान से फिर उपजा नया विवाद

सन् 2019 में भारत में हुआ दो दर्जन से अधिक मिसाइलों का सफल परीक्षण, पढ़ें विस्तृत खबर

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस